For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    इरफान ख़ान: टीवी से लेकर बॉलीवुड- हॉलीवुड तक की उड़ान, जानें पहली फिल्म मिलने की खास कहानी

    |

    इरफान खान भारतीय सिनेमा का एक ऐसा नाम था, जिसने विश्व स्तर पर अपनी खास पहचान बनाई थी। उनका अभिनय ही नहीं, उनके संघर्ष की कहानी भी लोगों को बहुत प्रभावित कर जाती है। आज उनकी पहली पुण्यतिथि पर सभी चाहने वाले उनकी खास यादें शेयर कर रहे हैं। अपनी फिल्मों के जरीए उन्होंने जो खास जगह दर्शकों के दिल में बनाया है, वह जगह और कोई नहीं ले सकता।

    1966 में जयपुर में जन्मे इरफ़ान ख़ान का बचपन एक छोटे से क़स्बे टोंक में गुज़रा। बचपन से ही क़िस्से कहानियों के शौक़ीन इरफ़ान का झुकाव सिनेमा की तरफ़ हुआ ख़ासकर नसीरुद्दीन शाह की फ़िल्में देखकर।

    राज्य सभा टीवी को दिए एक इंटरव्यू में एक दिलचस्प क़िस्सा सुनाते हुए इरफ़ान ने बताया था, "मिथुन चक्रवर्ती की फ़िल्म मृग्या आई थी। तो किसी ने मुझे कहा कि तेरा चेहरा मिथुन से मिलता है। बस अपने को लगा कि मैं भी फ़िल्मों में काम कर सकता हूं। कई दिनों तक मैं मिथुन जैसा हेयरस्टाइल बनाकर घूमता रहा।"

    बाबिल ने इरफान खान को किया याद, अनदेखी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- 'आपकी जगह कोई नहीं ले सकता'बाबिल ने इरफान खान को किया याद, अनदेखी तस्वीर शेयर करते हुए लिखा- 'आपकी जगह कोई नहीं ले सकता'

    बनाई खास जगह

    बनाई खास जगह

    एक ओर जहां उन्होंने ख़ुद को हिंदी सिनेमा के सबसे प्रतिभावान एक्टर्स की लिस्ट में स्थापित किया। वहीं हॉलीवुड में लाइफ़ ऑफ़ पाई, द नेमसेक, द स्लमडॉग मिलियनेयर, द माइटी हार्ट, द अमेज़िंग स्पाइडरमैन जैसी फ़िल्में की।

    टेलीविज़न में किया काम

    टेलीविज़न में किया काम

    नेशनल स्कूल ऑफ़ ड्रामा (एनएसडी) में पढ़ाई के बाद उन्होंने मुंबई का रुख़ किया लेकिन वहां फ़िल्मों में छोटे मोटे रोल के अलावा उन्हें कुछ नहीं मिला।

    एक डॉक्टर की मौत और कमला की मौत में वो पंकज कपूर के साथ छोटे से रोल में थे। साथ-साथ वो टीवी पर करने लगे। वो कहकशां, लाल घास पे नीले घोड़े, भारत एक खोज, बनेगी अपनी बात और चंद्रकांता में बद्रीनाथ के रोल में दिखे।

    ऐसे मिली पहली फिल्म

    ऐसे मिली पहली फिल्म

    जब नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ ड्रामा में इरफ़ान पढ़ाई कर रहे थे तभी उन्हें उनकी पहली अंतरराष्ट्रीय फ़िल्म मिल गई थी। मीरा नायर ने उन्हें सलाम बॉम्बे में एक बड़े रोल के लिए चुना, वो बॉम्बे आकर वर्कशॉप में शामिल हुए और दो दिन पहले उनसे कहा गया कि वो फ़िल्म का हिस्सा नहीं हैं।

    वो रात भर रोते रहे थे, जिसके बाद बदले में उन्हें छोटा से रोल दे दिया गया। सड़क किनारे बैठकर लोगों की चिट्टियाँ लिखने वाले एक लड़के का छोटा सा रोल किया था अभिनेता इरफ़ान ख़ान ने..

    खुद को टाइपकास्ट नहीं होने दिया

    खुद को टाइपकास्ट नहीं होने दिया

    इरफ़ान ख़ान की ख़ासियत यही थी कि जिस रोल में वो पर्दे पर दिखते रहे, दर्शकों को लगता रहा कि इससे बेहतर इस किरदार को कोई कर ही नहीं सकता था.. पीकू, मकबूल, पान सिंह तोमार, हिंदी मीडियम, हैदर जैसी फिल्में इसका उदाहरण हैं।। उन्होंने कभी खुद को टाइपकास्ट नहीं होने दिया। जब हासिल जैसे रोल के बाद उन्हें सब नेगेटिव रोल मिलने लगे तो उन्होंने कई मौकों को छोड़ा था..

    ये था पूरा नाम

    ये था पूरा नाम

    इरफान खान का पूरा नाम था साहिबज़ादे इरफान अली खान। उन्होंने फिल्मों में आने से पहले अपना नाम छोटा कर लिया था। बाद में उन्होंने अपने नाम से खान भी हटा लिया और केवल इरफान कर लिया। उन्होंने अर्णब गोस्वामी के शो पर इमाम की कड़ी आलोचना भी की। बाद में इरफान ने अपने नाम में एक R और जोड़ लिया।

    नेशनल अवार्ड से लेकर पद्मश्री

    नेशनल अवार्ड से लेकर पद्मश्री

    उनके एचिवमेंट की बात करें तो, अभिनेता को नेशनल अवार्ड से लेकर पद्मश्री सम्मान तक मिल चुका है। कला फिल्में हों या कमर्शियल फिल्में, इरफान खान ने अपने शानदार अभिनय के दम पर हर क्षेत्र में लोहा मनवाया है।

    फिल्म क्षेत्र में अपने शानदार योगदान

    फिल्म क्षेत्र में अपने शानदार योगदान

    60वे राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार 2012 में इरफ़ान खान को फिल्म पान सिंह तोमर में अभिनय के लिए श्रेष्ठ अभिनेता पुरस्कार दिया गया। वहीं, फिल्म क्षेत्र में अपने शानदार योगदान के लिए साल 2011 में इरफान खान को भारत सरकार द्वारा पद्मश्री से सम्मानित किया गया था।

    English summary
    On Irrfan Khan's first death anniversary, let's see a glimpse of his incredible journey from television to Bollywood and Hollywood.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X