For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Release Rewind: 'लम्हे' में अनिल नहीं, अमिताभ होते श्रीदेवी के हीरो

    |

    4 नवंबर 1991 में आई फिल्म 'लम्हे' यश चोपड़ा की कुछ यादगार फिल्मों में से एक है। जिसने पर्दे पर प्यार की परिभाषा ही बदल डाली। रोमांस का जादूगर माने जाने वाले यश चोपडा़ ने इस फिल्म के जरिए काफी जटिल लेकिन भावनात्मक कहानी को पर्दे पर उतारा। अनिल कपूर और श्रीदेवी की इस फिल्म को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी जबरदस्त रिस्पॉस मिला था। जबकि छोटी जगहों पर दर्शकों ने इसकी कहानी पर उंगली उठाई और सिरे से नकार दिया था। कारण था, हीरो का पहले मां से प्यार करना और फिर मां की मृत्यु के बाद , अंत में बेटी के साथ चले जाना।

    'लम्हे' की कहानी पर भले ही कितनी उंगलियां उठाई जाएं, लेकिन सच तो यही है कि श्रीदेवी ने इस फिल्म में जादू किया था। वहीं फिल्म का संगीत भी काफी पॉपुलर हुआ था। यहां हम आपको इस फिल्म से जुड़ी कुछ ऐसी बातों से रूबरू कराने जा रहे हैं, जो शायद ही आप जानते होंगे:

    • लम्हे में अनिल कपूर और श्रीदेवी की जोड़ी का काफी जोरदार रही थी। लेकिन क्या आपको पता है, इस फिल्म के लिए यश चोपड़ा की पहली पसंद अनिल नहीं थे। बल्कि वीरेन की रोल के लिए यश चोपड़ा ने पहले अमिताभ बच्चन से और फिर विनोद खन्ना से भी बात की थी। लेकिन दोनों ने इस रोल को नकार दिया।
    • इस फिल्म का संगीत काफी पॉपुलर रहा था। लेकिन क्या आपको याद है कि इस फिल्म का एक गाना 'कभी मैं कहूं' का ट्यून इस फिल्म के पहले इस्तेमाल किया गया था। जी हां, पहली बार फिल्म 'चांदनी' में इस गाने का ट्यून सुनाया गया था।
    • यह पहली हिन्दी फिल्म थी, जिसने अंतर्राष्ट्रीय बाजार में काफी जबरदस्त बिजनेस किया था। वहीं इस फिल्म के लिए श्रीदेवी को बेस्ट एक्ट्रेस के लिए अंतर्राष्ट्रीय अकादमी एवार्ड से भी नवाजा गया था।
    • लम्हे यश चोपड़ा की फेवरिट फिल्म थी।
    • इस फिल्म के लिए अनिल कपूर ने पहली बार अपनी मूंछें मुंडवायीं थी। जबकि फिल्म के सकेंड हॉफ में अनिल वापस मूछों में नजर आए थे।
    • लम्हे की शूटिंग जब लंदन में हो रही थी, तो श्रीदेवी के पिताजी का देहांत हो गया था। जिसके लिए उन्हें वापस मुंबई आना पड़ा। 16 दिनों के बाद जब श्रीदेवी वापस शूटिंग के लिए गईं तो उन्हें सबसे पहले कॉमेडी सीन शूट करना पड़ा था। लेकिन श्रीदेवी ने इस सीन में इतनी जबरदस्त एक्टिंग की थी, कि वह यादगार हो गया।
    • फिल्म लम्हे के लिए कॉस्ट्यूम डिजाइनर नीता लूला को नेशनल ऐवार्ड मिला था। उन्होंने फिल्म में श्रीदेवी की शानदार कॉस्ट्यूम्स डिजाइन की थीं।
    English summary
    Film Lamhe is one of the best stories by Yash Chopra, which mesmerized the audiences.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X