For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    Independence day: कोरोना में देश ने मांगी मदद, ये सुपरस्टार्स बने असली हीरो, खोला करोड़ों का खजाना

    |

    ब्रिटिश गुलामी से आजादी पाकर साल 1947 में 15 अगस्त को भारत स्वतंत्र हुआ। अंग्रेजों से गुलामी के बाद कई स्वतंत्रता सेनानियों ने अपनी आहुति दी। बॅार्डर पर सेना के जवान अपने परिवार से दूर देश की रक्षा में फौलाद की तरह खड़े हैं। बीते कई महीने भारत कोरोना से आजादी चाहता है। इसे लेकर केंद्र सरकार, राज्य सरकार, स्वास्थ्य विभाग के साथ आम जनता से लेकर बॉलीवुड के हर स्टार्स ने अपना प्रमुख योगदान देश के लिए दिया है।

    बीते एक साल से कोरोना से चल रही देश की लड़ाई में लाखों लोगों की जान गई है। बॉलीवुड हमेशा से ही ऊपर उठकर देश की बड़ी समस्याओं में आर्थिक सहायता देने के लिए एक कदम आगे रहता है। यही वजह रही है कि बॉलीवुड के ऐसे एक नहीं बल्कि कई मसीहा या आप यूं कह लें कि रियल लाइफ हीरो रहे हैं जिन्होंने कोरोना की पहली लहर से लेकर दूसरी लहर के बीच लगातार बिना थमे हुए दान किया है।

    ऐसे में इंडिपेंडेंस डे के दिन उन रियल लाइफ हीरो का भी जिक्र होना चाहिए जिन्होंने सही समय पर आगे आकर लाखों करोड़ों लोगों को खाने से लेकर स्वास्थ्य सुविधा के साथ कोरोना से आजादी पाने के लिए कवच दिया है। कई स्टार्स के मंदिर बनाने तक की योजना लोगों ने बनाई। तो किसी ने सोशल मीडिया पर कोरोना के सुपर हीरो और कोरोना में महादान का ट्रेंड शुरू कर दिया।

    सोनू सूद की होने लगी पूजा, कोरोना हीरो

    सोनू सूद की होने लगी पूजा, कोरोना हीरो

    सोनू सूद ने मजदूरों को घर पहुंचाने से लेकर कई लोगों की आर्थिक सहायता करने के साथ कोरोना से लोगों की जान बचाने के लिए एयलिफ्ट करने का भी काम किया। कोरोना की दूसरी लहर मेंस्वास्थ्य सुविधा में आयी सबसे बड़ी कमजोरीऑक्सीजन और इंजेक्शन भी सोनू सूद ने देश के हर कोने में मदद के एक ट्वीट से पहुंचाया। फ्री हेल्पलाइन नंबर जारी किया। आलम तो ये है कि किसी ने अपने बच्चे का नाम सोनू सूद रखा तो किसी ने अपनी नई दुकान का नाम सोनू सूद पर रखा। एक्टर की तस्वीर पर दूध चढ़ाने से लेकर मंदिर बनवाने तक। सोनू सूद मसीहा नहीं बल्कि कोरोना वायरस में भगवान बन गए। सोनू सूद ने लाखों लोगों को कोरोना के साथ बेरोजगारी, और आर्थिक संकट से भी आजादी दिलाई है।

    अमिताभ बच्चन का पहली लहर से दूसरी लहर में कोरोना महादान

    अमिताभ बच्चन का पहली लहर से दूसरी लहर में कोरोना महादान

    अमिताभ बच्चन ने गुपचुप तरीके से करोड़ों का दान किया। इसके साथ मजदूरों को घर पहुंचाने से लेकर खाने की सुविधा देने का काम भी उन्होंने कोविड-19 की पहली लहर में जारी रखा।दूसरी लहर के दौरान दिल्ली में आयी सबसे अधिक मुसीबत के दौरान अमिताभ बच्चन ने दिल्ली के कोविड सेंटर की स्वास्थ्य सुविधाओं के लिए करोड़ों का दान किया। विश्व स्तर पर भारत की सहायता के लिए अपील भी की।

    पलक मुच्छल ने बनवाया अस्पताल

    पलक मुच्छल ने बनवाया अस्पताल

    पलक मुच्छल ने कोरोुना काल के दौरान अस्पताल ही खोल दिया। आक्सीजन, वेंटीलेटर और बेड्स की कमी का सामना कर रहे हैं हजारों लोगों के लिए पलक मुच्छल ने सोनू सूद की तरह मसीहा बन गईं। कई लोगों का पलक मुच्छल ने फ्री में इलाज करवाया। इसके साथ कोविड के दौरान पलक मुच्छल ने एक पोस्ट पर हजारों लोगों की मदद की। पलक मुच्छल का नाम भी कोरोना के सबसे मुश्किल समय पर सोशल मीडिया पर ट्रेंड कर रहा था।

    सलमान खान ने खड़ी कर दी टीम

    सलमान खान ने खड़ी कर दी टीम

    सलमान खान की मदद की फेहरिस्त लंबी है। दिहाड़ी मजदूरों के अकाउंट में 3000 हजार रुएए ट्रांसफर करने के साथ लाखों लोगों की सलमान खान ने मदद की। फुड ट्रक खोल कर लोगों को मुफ्त में खाना भी बांटा। आर्थिक तौर पर भी सलमान खान ने काफी डोनेशन किया। जिसे उन्होंने गुप्त रखा। सलमान खान ने एक टीम का गठन किया, जिसने कोरोना वायरस की पहली लहर के समय आर्थिक सहायता देने के साथ दूसरी लहर में स्वास्थय सुविधा की कमी को भी भरने की कोशिश की। सलमान खान ने 25 हजार दिहाड़ी मजदूरों की जिम्मेदारी उठाई। यहां तक राधे फिल्म की कमाई का हिस्सा भी सलमान खान ने वेंटिलेटर्स और आक्सीजन सिलेंडर खरीदने के लिए दान किया। सलमान खान ने 25 हजार वर्कर्स को 3.75 करोड़ का दान किया। फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए फूट पैकेट भी भिजवाए।

    महादान पर शाहरुख खान का नाम

    महादान पर शाहरुख खान का नाम

    शाहरुख खान के लेकर ये खबर सामने आयी कि कोरोना वायरस के दौरान उन्होंने 70 करोड़ का महादान किया। हालांकि कभी भी इस पर कोई आधिकारिक जानकारी नहीं आयी। लेकिन शाहरुख खान का महादान किसी से कम नहीं है। शाहरुख खान ने 7 सबसे जरूरी चीजों में दान किया। शाहरुख खान ने पीएम केअर्स फंड में डोनेशन के साथ सीएम फंड में करोड़ों के दान के साथ खुद अपनी टीम का गठन कर कोरोना पीड़ितों के लिए अपना दफ्तर दान करने के साथ, दिहाड़ी मजदूरों , हेल्थ वर्कर्स दान करके असली किंग बन गए।शाहरुख ने 5500 परिवारों को रोजाना एक महीने के लिए खाना खिलाने का काम भी किया। एसिड सर्वाइवर की सहायता करने और हेल्थ केयर वर्कर्स को 50 हजार पीपीई का योगदान दिया।

    अक्षय कुमार ने भी दिखाया बड़ा दिल

    अक्षय कुमार ने भी दिखाया बड़ा दिल

    अक्षय कुमार ने भी महामारी के दौरान 25 करोड़ की धनराशि पीएम फंड में दान की। लॅाकडाउन के दौरान कई लोगों की जरूरत पूरी की। मुंबई पुलिसकर्मियों के लिए अक्षय कुमार ने सेनिटाइजर, फिट बैंड्स के साथ कई ऐसी जरूरत और कोरोना सावधानी की चीजें दी जो कि उन्हें कोविड में दूसरों की सेवा और सुरक्षा के दौरान काफी मदद देने में काम आयी।

    विदेश में बैठकर प्रियंका चोपड़ा की मदद

    विदेश में बैठकर प्रियंका चोपड़ा की मदद

    प्रियंका चोपड़ा ने पति निक जोनस के साथ मिलकर 15 संगठनों को दैनिक वेतन,गरीबों की मदद करने के साथ कई तरह आर्थिक मदद की। भारतीय पीएम राहत कोष में भी प्रियंका ने अपना डोनेशन किया है। प्रियंका चोपड़ा ने 'बॉन विव' नामक एक संस्था को डोनेशन में 75 लाख रुपये दिए हैंप्रियंका चोपड़ा ने केरल, महाराष्ट्र, हरियाणा और कर्नाटक के हेल्थ कर्मियों को 10 हजार जोड़ी जूते की मदद की।महिलाओं की मदद के लिए उन्हें 76 लाख रुपए का दान किया।

    English summary
    Independence day 2021:list of Bollywood stars who become real life hero during corona virus Sonu sood to Salman Khan,here read full details
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X