»   » अपनी ही फिल्म से टक्कर नहीं ले पा रहे सलमान..पहले दिन में ट्यूबलाइट का बंटाधार !

अपनी ही फिल्म से टक्कर नहीं ले पा रहे सलमान..पहले दिन में ट्यूबलाइट का बंटाधार !

By: shivani verma
Subscribe to Filmibeat Hindi

जब सलमान खान की फिल्म आने की खबरें भर आती हैं तो लोग न जाने उनसे क्या क्या उम्मीदें लगा लेते हैं। सोचना शुरू हो जाता है कि फिल्म में इस बार सलमान क्या धमाका करेंगे।

फिल्म की कहानी क्या होगी, क्या लोकेशन होगी, सलमान का रोल कैसा होगा और कौन होगी सलमान की हिरोइन। ऐसा ही ट्यूबलाइट के साथ भी हुआ। जब फिल्म बनने की घोषणा हुई तो ऐसे सवाल दिमाग में आने लगे।

here-s-why-salman-khan-s-tubelight-might-not-connect-with-audience-like-bajrangi-bhaijaan

फाइनली फिल्म रिलीज़ हो गई लेकिन..ये क्या..जैसा कुछ सोचा था वैसा हुआ नहीं। कुछ लोग मान रहे थे कि फिल्म बजरंगी भाईजान से मिलती जुलती है। अगर ऐसा भी होता तो शायद लोगों को पसंद आ जाती लेकिन ऐसा था ही नहीं।

जिस तरह से लोगों ने इस खुद को बजरंगी भाईजान से कनेक्ट किया उस तरह से वो ट्यूबलाइट से खुद को कनेक्ट नहीं कर पाए। क्या है इसके पीछे कारण..डालिए एक नज़र...

बच्चे के किरदार में 50 साल के सलमान

बच्चे के किरदार में 50 साल के सलमान

फिल्म बजरंगी भाईजान में बजरंगी के किरदार में जितने भोले थे उसने लोगों का दिल जीत लिया था। वहीं ट्यूबलाइट में भी सलमान ने एक भोलेभाले लड़के का किरदार निभाया है लेकिन फर्क इतना है कि इसमें सलमान ने बिल्कुल एक बच्चे का किरदार निभाया है।

कोशिश तो अच्छी थी लेकिन..

कोशिश तो अच्छी थी लेकिन..

तो 50 साल के सलमान को एक बच्चे के रोल में देखना लोगों को शायद इतना पसंद नहीं आया। कोशिश तो अच्छी थी लेकिन इतनी सफल नहीं हो पाई।

भारतीय-चीनी पृष्ठभूमि

भारतीय-चीनी पृष्ठभूमि

बात करें बजरंगी भाईजान की तो इसमें भारत-पाकिस्तान की पृष्ठभूमि दिखाई गई है। जैसा कि हम जानते हैं कि लोग भारत और पाकिस्तान पर आधारित फिल्मों से खुद को काफी अच्छे से कनेक्ट कर लेते हैं। इमोशली से लेकर पॉलिटिकली भी लोग इस मुद्दे पर काफी कनेक्ट कर लेते हैं।

नहीं कर पाए कनेक्ट

नहीं कर पाए कनेक्ट

लेकिन इतना अच्छा कनेक्शन लोग भारत-चीन के मुद्दे पर नहीं कर पाते। भारत और चीन का मुद्दा ही फिल्म ट्यूबलाइट में दिखाया गया है जिससे लोग शायद खुद को कनेक्ट नहीं कर पाए।

सलमान की दबंगई कहां गई !

सलमान की दबंगई कहां गई !

अब सलमान की फिल्म है..उनसे लोग दबंगई की..थोड़े एक्शन की..थोड़ी मार धाड़ की तो उम्मीद करेंगे ही। बजरंगी भाईजान में भी ऐसा हुआ था। लेकिन ट्यूबलाइट इससे महरूम रह गए।

हद से ज्यादा भाईगिरी

हद से ज्यादा भाईगिरी

सलमान खान अपनी फिल्मों में एक्ट्रेस के साथ बॉन्डिंग के लिए जाने जाते हैं। लेकिन इस फिल्म में दिखाई गई है दो भाइयों की बॉन्डिंग वो भी ओवरडोज़। तो हो सकता है लोगों को भाईगिरी का ओवरडोज़ पसंद न आया हो।

चीनी एक्ट्रेस

चीनी एक्ट्रेस

जैसा कि सब जानते हैं कि सलमान अपनी हिरोइनों के साथ में एक्सपेरिमेंट करते ही रहते हैं। उनकी फिल्मों में नई नई हिरोइनें होती हैं। साथ ही होते हैं कुछ लटके कुछ झटके। अब करीना को ही ले लीजिए..बजरंगी भाईजान में उनके जैसी एक्टिंग है उस तरीके का किरदार शायद ट्यूबलाइट में न डालना नेगेटिव साबित हो गया।

अभी तो पिक्चर बाकी है

अभी तो पिक्चर बाकी है

हालांकि ये तो पहले दिन के रिएक्शन पर ही सब कहा जा रहा है। लेकिन ये नहीं भूलना चाहिए कि सलमान की फिल्म कितनी भी खराब क्यों न हो हिट तो हो ही जाती है और ये तो फिर भी ट्यूबलाइट है जिसे लोगों ने एक ओर खराब कहा है तो वहीं दूसरी ओर कुछ लोग तारीफ भी कर रहे हैं।

English summary
Here's why Salman Khan's Tubelight might not connect with the audience like bajrangi bhaijaan.
Please Wait while comments are loading...