For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    OUCH.. इस सुपरहिट फिल्म की याद दिलाती है आमिर की 'दंगल'

    By Neeti
    |

    ''तुम्हें यह खुद के लिए नहीं जीतना है.. बल्कि जीतना है उन लोगों को चुप करने के लिए जो सोचते हैं कि लड़कियां कुश्ती नहीं लड़ सकती....'' यह डॉयलोग है ताजा रिलीज बेहतरीन फिल्म दंगल की।

    लेकिन एक बार फिर से यह पढ़ें.. क्या कुछ याद आया है! जी हां, कोच कबीर खान जब अपनी हॉकी टीम का हौसला बांधते हुए उन्हें जीतने को प्रेरित करता है.. तो कुछ ऐसा ही डॉयलोग डाइरेक्टर ने उन्हें भी दिया है। बस वहां कुश्ती की जगह हॉकी कर दीजिए।

    BOX OFFICE: आमिर खान की 'दंगल'.. पहले दिन की धमाकेदार कमाई!

    जी हां, हम बात कर रहे हैं शाहरूख खान की सुपरहिट फिल्म 'चक दे इंडिया' की। हालांकि दोनों फिल्मों का आपस में कोई जोड़ नहीं। दंगल एक उम्दा फिल्म है, जो बॉलीवुड को एक अलग स्तर पर ले जाती है। लेकिन कहीं ना कहीं दंगल से चक दे इंडिया की यादें ताजा हो गई हैं

    यहां जानते हैं दंगल, चक दे इंडिया में क्या है सेम टू सेम-

    देश के लिए गोल्ड

    देश के लिए गोल्ड

    महावीर सिंह फोगट और कबीर खान.. दोनों का एक ही सपना होता है.. खेल के जरीए भारत को गोल्ड दिलाने का.. वहां हॉकी था, यहां कुश्ती..

    लड़कियो का विरोध

    लड़कियो का विरोध

    दोनों फिल्मों में पहले लड़कियां अपने कोच का विरोध करती हैं.. लेकिन फिर उन्हें एहसास होता है कि यह सब उनकी अच्छाई के लिए किया जा रहा है।

    समाज से लड़ाई

    समाज से लड़ाई

    कबीर खान और महावीर फोगट दोनों ही समाज की इस सोच से लड़ते दिखते हैं कि लड़कियां स्पोर्ट्स में आगे नहीं बढ़ सकती।

    पहली हार

    पहली हार

    दंगल में लड़के से मिली पहली हार गीता को मजबूत करती है.. वहीं, चक दे इंडिया में भी पुरूष टीम से मिली हार टीम को और मेहनत करने के लिए प्रोत्साहित करती है।

    ऑस्ट्रेलिया कनेक्शन

    ऑस्ट्रेलिया कनेक्शन

    दंगल में गीता को इंटरनेश्नल स्तर पर पहली हार एक ऑस्ट्रेलियन खिलाड़ी से मिलती है। फिर उसी से वह फाइनल जीतती है। वहीं, चक दे में भी ऑस्ट्रेलियन से ही भारतीय टीम का सामना होता है।

    70 मिनट डॉयलोग

    70 मिनट डॉयलोग

    दंगल की क्लाईमैक्स सीन में गीता अपने पिता से पूछती है.. फाइनल की स्ट्रैजी क्या है.. जिस पर महावीर फोगट कहते हैं- कोई स्ट्रैजी नहीं है.. बल्कि आज यह मैच तुम्हें हर उस लड़की के लिए खेलना है, जिसे लोग कमजोर समझते हैं.. और सोचते हैं कि लड़कियां सिर्फ चूल्हा चौके के लिए बनी है.. हम्मम.. यह डॉयलोग काफी कुछ चक दे की याद दिलाता है।

    English summary
    Aamir Khan's Dangal scenes may remind you some memorable scenes of Chak De India.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X