»   » डेट पर जाने तक के नहीं थे पैसे..ऐसे शुरू हुई इस सुपरस्टार की लव स्टोरी !

डेट पर जाने तक के नहीं थे पैसे..ऐसे शुरू हुई इस सुपरस्टार की लव स्टोरी !

By: shivani verma
Subscribe to Filmibeat Hindi

इन दोनों की प्रेम कहानी कभी मीडिया कवरेज की मोहताज नहीं है, लेकिन ये किसी फेयरीटेल से कम भी नहीं है। जी हां..हम बात कर रहे हैं अनिल कपूर और उनकी पत्नी सुनीता कपूर की। आप सोच रहे होंगे कि अचानक से हम इनकी बात क्यों करने लग गए।

तो जनाब हम आपको बताते हैं..दरअसल, आज इनकी शादी की सालगिरह है। दोनों ने 19 मई, 1984 में शादी की थी। दोनों की शादी को आज पूरे 33 साल हो गए हैं। भले ही ये कपल मीडिया से दूर रहता है लेकिन आपको बता दें कि ये भी बॉलीवुड के सबसे क्यूट कपल में से एक है।

दोनों के तीन बच्चे हैं, सोनम कपूर, रेहा और हर्षवर्धन। आज इन दोनों की सालगिरह है तो हमने सोचा कि आपको इनकी क्यूट सी लव स्टोरी बताएं। आप भी पढ़ें इनकी प्रेम कहानी..

 एक नज़र में दे बैठे दिल

एक नज़र में दे बैठे दिल

1980 के दशक में अनिल कपूर रोज-रोज ऑडिशन के लिए जाया करते थे। उन्हीं दिनों में अनिल कपूर की नज़र एक लड़की पर पड़ी और वो उन्हें दिल दे बैठे। वो लड़की कोई और नहीं बल्कि सुनीता कपूर ही हैं।

आसान नहीं तक सफर

आसान नहीं तक सफर

लेकिन उस लड़की के दिल तक का रास्ता अनिल के लिए आसान नहीं था। जैसे ही उन्होंने सुनीता के बारे पता लगाना चाहा तो उन्हें पता लगा कि वो एक सफल मॉडल हैं उनतक पहुंचना काफी मुश्किल है।

दोस्तों को सुनाया दिल का हाल

दोस्तों को सुनाया दिल का हाल

लेकिन अनिल से नहीं रहा गया। उन्होंने अपने कुछ ऐसे दोस्तों को दिल का हाल सुनाया। फिर उनके दोस्तों ने एक काम किया कि कहीं से उस लड़की का फोन नंबर अनिल को दे दिया।

फोन पर की बात

फोन पर की बात

फिर क्या था, उस मॉडल से फोन पर बातचीत शुरू कर दी।

डेट पर ले जाने के नहीं थे पैसे

डेट पर ले जाने के नहीं थे पैसे

गुलशन ग्रोवर बताते हैं ‌कि अनिल फोन पर बात करने में ही सुनीता को दिल दे बैठे थे, लेकिन दुविधा ये कि वह लड़की से मिलने को नहीं सोच रहे थे, क्योंकि उनके पास इतने पैसे नहीं थे कि एक लड़की को डेट पर ले जा सकें।

सुनीता ने ही मिलने के लिए कहा

सुनीता ने ही मिलने के लिए कहा

एक दिन सुनीता ने खुद ही अनिल को मिलने के लिए कहा। तब अनिल ने कहा कि ठीक है मैं दो घंटे में पहुंचूंगा। इस बार सुनीता ने कहा दो घंटे क्यों..तो अनिल ने कहा कि मैं बस आऊंगा क्योंकि कैब के लिए मेरे पास पैसे नहीं है।

''मैं दे दूंगी पैसे''

''मैं दे दूंगी पैसे''

इस पर सुनीता ने कहा कि आप कैब कर लो मैं पैसे दे दूंगी। बस..फिर क्या..अनिल और भी ज्यादा सुनीता को चाहने लग गए।

घूमना शुरू किया

घूमना शुरू किया

उस डेट के बाद दोनों बस और मुंबई घूमा करने लगे। सुनीता नामी मॉडल होने के बाद भी बस से घूमने में आपत्ति नहीं जताती थीं। वे ही अनिल का पूरा खर्च उठाती थीं।

 सुनीता ने काफी समय तक अनिल का खर्चा उठाया

सुनीता ने काफी समय तक अनिल का खर्चा उठाया

अनिल को 1984 में फिल्म 'मशाल' मिली। ये फिल्म इतनी हिट हुई कि इससे अनिल का रुतबा ही बदल गया। इसके बाद अनिल ने सुनीता को शादी के लिए प्रपोज़ किया लेकिन तब सुनीता ने सोचने का वक्त मांगा लेकिन आखिरकार सुनीता ने फोन पर उन्हें शादी के लिए हां कह दिया।

English summary
Anil kapoor and Sunita Kapoor love story on his wedding anniversary.
Please Wait while comments are loading...