»   » BLOCKBUSTER है अक्षय की 'टॉयलेट एक प्रेम कथा'..रिलीज़ से पहले पूरी कहानी सामने !

BLOCKBUSTER है अक्षय की 'टॉयलेट एक प्रेम कथा'..रिलीज़ से पहले पूरी कहानी सामने !

By: shivani verma
Subscribe to Filmibeat Hindi

लीजिए अक्षय कुमार और भूमि पेडनेकर की फिल्म टॉयलेट एक प्रेम कथा रिलीज़ होने में ज्यादा दिन नहीं बचे हैं। ये फिल्म इस शुक्रवार यानी 11 अगस्त को सिनेमाघरों में रिलीज़ हो रही है। फिल्म का हम सभी को ही काफी बेसब्री से इंतज़ार था। लेकिन अब आपको ज्यादा इंतज़ार करने की ज़रूरत नहीं है।

akshay-kumar-s-toilet-ek-prem-katha-movie-full-story

ये फिल्म एक कॉमेडी ड्रामा है जिसमें शौचालय जैसे सामाजिक मुद्दे को उठाया गया है। फिल्म यूपी के एक छोटे से गांव की है जिसमें ये दिखाया गया है कि कैसे आज भी इस देश के कई इलाकों में शौचालय तक नहीं हैं, जिसके कारण एक महिला को कितनी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। 

REACTION.. ट्यूबलाइट-JHMS फ्लॉप का दुख ना मनाएं..ब्लॉकबस्टर END की तैयारी पूरी !

इसी के साथ आपको भूमि और अक्षय की प्यारी सी लव स्टोरी भी दिखाई देगी जो इस शौचालय वाले मुद्दे को आगे बढ़ाने का आधार है।

हम आपको आज इस फिल्म की पूरी कहानी बताने जा रहे हैं जो ये फिल्म देखने और समझने में मदद करेगी..डालिए इस फिल्म की कहानी पर एक नज़र..

यूपी के गांव की कहानी

यूपी के गांव की कहानी

ये कहानी है यूपी के एक छोटे से गांव की। जहां रहता है केशव (अक्षय कुमार)। केशव की उम्र बढ़ रही है लेकिन उसकी शादी नहीं हो रही।

कुंडली में दोष

कुंडली में दोष

केशव के गांव वाले कुंडली को बहुत मानते हैं और काफी अंधविश्वासी हैं। उनका कहना है कि उसकी कुंडली में दोष है, जिसके चलते उसकी शादी करवाई जाती है एक भैंस से।

हो जाता है प्यार

हो जाता है प्यार

लेकिन भैंस से शादी के बाद भी वो है तो सिंगल ही। और इसी बीच में मौहल्ले की जया (भूमि पेडनेकर) से केशव को हो जाता है प्यार। दीवानों की तरह जया को चाहने लगता है।

खूब पापड़ बेलता है

खूब पापड़ बेलता है

इस बीच केशव जया को पटाने के लिए खूब पापड़ बेलता है और अपने बाबूजी को भी अपनी शादी कराने के लिए बार बार कहता है।

हो जाती है शादी

हो जाती है शादी

लेकिन धीरे-धीरे जया भी केशव से प्यार करने लगती है और बाबूजी भी शादी के लिए मान जाते हैं। यहां तक तो सब कुछ सही चल रहा है, लेकिन असली कहानी तो अब शुरू होगी।

घर में नहीं है शौचालय

घर में नहीं है शौचालय

अब कहानी शुरू होती है टॉयलेट की। जया को तो पता ही नहीं है कि जिस घर में वो शादी करके गई है वहां तो शौचालय ही नहीं है। जब शादी के बाद जया को इस बात का पता चलता है तो उसका हो जाता है पारा हाई। वो केशव से घर में शौचालय की मांग करती है।

छोड़ देती है घर

छोड़ देती है घर

जब उसे लगता है कि उसकी बात पर ध्यान नहीं दिया जा रहा तो वो केशव का घर छोड़कर चली जाती है। और जया तब तक घर नहीं आएगी जब तक शौचालय नहीं होगा।

अब बीवी पास चाहिए..तो घर में संडास चाहिए..

अब बीवी पास चाहिए..तो घर में संडास चाहिए..

अब बीवी पास चाहिए..तो घर में संडास चाहिए..और केशव तो वैसे भी है बीवी का दीवाना..तो मांग तो पूरी करनी ही पड़ेगी। बस फिर क्या..पूरे गांव में केशव छेड़ देता है संडास बनवाने की मुहीम।

कई मुश्किलों का सामना

कई मुश्किलों का सामना

इस दौरान केशव को सरकारी दिक्कतों का भी सामना करना पड़ेगा..पंचों से भिड़ना भी पड़ेगा..और भी कई परेशानियां इस दौरान केशव को झेलनी पड़ेगी।

11 अगस्त को जाएं थियेटर

11 अगस्त को जाएं थियेटर

अब उन सारी मुसीबतों को दूर करते हुए कैसे गांव भर में शौचालय बनवाता है केशव..और किस तरह जया उसके पास आएगी..ये जानने के लिए आपको 11 अगस्त को सिनेमाघरों की तरफ रुख ज़रूर करना चाहिए।

English summary
Akshay Kumar's Toilet Ek Prem Katha Movie Full Story.
Please Wait while comments are loading...