For Quick Alerts
    ALLOW NOTIFICATIONS  
    For Daily Alerts

    After Marriage- राज-सिमरन चलते चलते कहते हम तुम्हारे हैं सनम

    |

    चलती हुई ट्रेन..राज का ट्रेन पर अपने पिता के साथ चढ़ जाना और सिमरन का स्टेशन पर खड़े रहना। ट्रेन चल पड़ी लेकिन सिमरन वहीं खड़ी है क्योंकि उसके बाबूजी ने उसका हाथ पकड़ रखा है। ट्रेन ने रफ्तार पकड़ी और अचानक ही बाबूजी ने सिमरन का हाथ छोड़ दिया। और कहा..जा सिमरन जी ले अपनी जिंदगी। इस लडके से ज्यादा तुझे प्यार और कोई नहीं कर सकता। बस फिर क्या सिमरन ने दौड़ना शुरु किया और राज ने हाथ आगे बढा़कर सिमरन को गले से लगा लिया। दिलवाले दुल्हनिया ले गये।

    नहीं मिलते राज और सिमरन तो..नहीं मिलते राज और सिमरन तो..

    लेकिन बात यहीं पर तो खत्म नहीं होती। दिलवाले दुल्हनिया तो ले गये हर बार ले जाते हैं लेकिन क्या उस दुल्हनिया को ले जाने के बाद उनकी बाकी जिंदगी उतनी ही प्यार भरी रहती है। क्या फिल्मों के अंत में दिखाया जाना वाला स्टेटमेंट हैप्पी एवर आफ्टर सच होता है। भला ये कैसे पता चले। निर्दशक तो बस प्यार करने वालों को मिलाकर फिल्में खत्म कर देते हैं।

    तो आइये शाहरुख की ही फिल्मों व उनके किरदारों से जानते हैं कि 20 साल पहले वो जिस दुल्हिनया को लेकर गये थे उसे वो कितने प्यार से रखते।

    चलते चलते लड़ते राज और सिमरन

    चलते चलते लड़ते राज और सिमरन

    शादी होने के बाद प्यार में काफी बदलाव आता है। इंसान वो नहीं रह जाता जो शादी से पहले था। जाहिर कि राज भी इस बदलाव से अछूता ना रहता। औऱ राज-सिमरन के बीच रोज कुछ ना कुछ बहस होती ही रहती। लेकिन राज को भले ही ये ना पता हो कि बिजनेस कैसे होता है..उन्हें ये जरुर पता है कि प्यार कैसे होता है। लड़ते भिड़ते लेकिन राज सिमरन साथ ही रहते।

    राज और सिमरन की रब ने बना दी जोड़ी

    राज और सिमरन की रब ने बना दी जोड़ी

    शादी के बाद भी राज अपनी मजेदार हरकतों से अपनी सिमरन को हर पल ये एहसास दिलाता कि वो उससे प्यार करता है। सिमरन की खुशी के लिए वो खुद को भी बदल लेताी। क्योंकि राज को पता है कि एक लड़की सिर्फ इतना ही चाहती है कि कोई उसे इतना प्यार करे जितना किसी ने किसी से ना किया हो।

    राज और सिमरन की जिंदगी में कभी खुशी कभी गम

    राज और सिमरन की जिंदगी में कभी खुशी कभी गम

    भले ही सिमरन राज शादी के लिए घर छोड़ देते लेकिन एक दूसरे का जिंदगी भर साथ देते। एक दूसरे के साथ खुशियां और गम बांटते हुए उनकी जिंदगी गुजरती। जब भी राज को गुस्सा आता तो सिमरन कहती राज..टेक अ चिल पिल..

    राज सिमरन से कहते माई नेम इज खान

    राज सिमरन से कहते माई नेम इज खान

    सिमरन के लिए राज किसी भी हद तक जाता। कितनी भी मुश्किलें होंती लेकिन राज सिमरन एक दूसरे का साथ कभी नहीं छोड़ते। यहां तक कि मिस्टर खान ये भी साबित कर देते कि भले ही उनका नाम खान है लेकिन वो टेररिस्ट नहीं है।

    हम तुम्हारे हैं सनम

    हम तुम्हारे हैं सनम

    शादी के बाद अक्सर पति पत्नी एक दूसरे को लेकर काफी पसेसिव हो जाते हैं। ऐसे में राज और सिमरन के बीच भी हो सकता है कि किसी तरह की मुश्किलें सामने आएं। लेकिन इतना तो यकीन है कि राज और सिमरन इन मुश्किलों को जरुर पार कर लेंगे।

    English summary
    Dilwale Dulhaniya Le Jayenge has completed 20 years of its release. Shahrukh Khan and Kajol fans are celebrating this occasion as a festival.
    तुरंत पाएं न्यूज अपडेट
    Enable
    x
    Notification Settings X
    Time Settings
    Done
    Clear Notification X
    Do you want to clear all the notifications from your inbox?
    Settings X
    X