»   » ..इसलिए सलमान से ट्यूबलाइट में हो गई गलती से 10 MISTAKES!

..इसलिए सलमान से ट्यूबलाइट में हो गई गलती से 10 MISTAKES!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

कहते हैं वक्त कभी भी एक जैसा नहीं रहता है। वो कभी ना कभी बदलता ज़रूर है। सलमान खान के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ हो गया है। ट्यूबलाइट के साथ उनका अच्छा वक्त खत्म हो गया।

कम से कम ये भ्रम तो टूट ही गया कि सलमान खान कुछ भी कर सकते हैं। या यूं कहिए कि अब हर डायरेक्टर को आंख बंद करके सलमान खान पर यकीन कभी नहीं हो पाएगा।

10-reasons-why-tubelight-is-mistake-salman-khan\s-career

ट्यूबलाइट में वैसे तो बहुत सारी कमियां थीं लेकिन सलमान खान ने ये फिल्म चुनकर गलती की ये तो सभी मान रहे हैं। एक तो कबीर खान ने एक फ्लॉप फिल्म का रीमेक बनाकर गलती की।

ऊपर से पूरी फिल्म सलमान खान और सोहेल खान की बॉन्डिंग पर आकर टिक गई। अब ये पहले भी देखा जा चुका है कि सलमान और सोहेल की ऑन स्क्रीन केमिस्ट्री दर्शकों को कभी पसंद नहीं आती है। फिर भी कबीर खान ने इतना बड़ा रिस्क ले लिया।

सलमान खान खुद बता चुके हैं कि ये लौंडे लपाड़ों वाली फिल्म नहीं थी। जबकि ईद का सीज़न ही ऐसी फिल्मों का होता है कि चार दोस्त मिलकर फिल्म देखने जा सकें। ट्यूबलाइट वो फिल्म नहीं थी।

यही कारण है कि बॉक्स ऑफिस पर ट्यूबलाइट केवल 150 करोड़ पर आकर सिमट गई। अब आपको बताते हैं सीधा वो 10 गलतियां जो सलमान से ट्यूबलाइट में हो गईं -

खो गया लक्ष्मण

खो गया लक्ष्मण

ट्यूबलाइट एक इमोशनल फिल्म है। लेकिन लोगों को सलमान खान में वो अल्हड़ देसी लौंडा देखने की आदत है। जैसा कि सुलतान में था। बजरंगी में वो भोले ज़रूर थे लेकिन गुस्सा आने पर जमकर धुनाई करने की ताकत रखते थे। एक था टाईगर में फिर सलमान वैसे ही दिखेंगे। और सुलतान - टाईगर के बीच, इस लक्ष्मण की कोई जगह बन ही नहीं पाई।

स्टारडंम पर हावी

स्टारडंम पर हावी

स्टारडम के दम पर सलमान की फिल्में चलती हैं, इसमें कोई शक नहीं है। लेकिन कबीर खान ने सलमान के स्टारडम को इतना ज़्यादा सीरियसली ले लिया कि उन्हें लगा कि वो दर्शकों के सामने कुछ भी परोस देंगे और दर्शक सलमान के नाम पर चट कर जाएंगे। लेकिन ऐसा हुआ नहीं।

एवरेज एक्टर हैं सलमान खान

एवरेज एक्टर हैं सलमान खान

सलमान खान कितने भी बड़े सुपरस्टार हों लेकिन ये एक माना हुआ FACT है कि सलमान खान एक एवरेज एक्टर हैं। करीना कपूर तो उन्हें गंदा एक्टर तक कहती हैं। बहरहाल, ज़ाहिर सी बात है कि एक्टिंग के नाम पर बहुत कम ऐसी चीज़े हैं जो सलमान खान कर सकते हैं। लेकिन इस फिल्म में उन्हें भर भरकर एक्टिंग करनी थी जो उन्होंने कोशिश की, पर हो नहीं पाया।

कर दी भारी गलती

कर दी भारी गलती

कबीर खान की बजरंगी भाईजान ब्लॉकबस्टर बनी थी हर्षाली और सलमान की ट्यूनिंग की वजह से। ट्यूबलाइट असल में एक अंग्रेज़ी फिल्म से ली गई कहानी थी जो एक छोटे बच्चे की थी। अब कबीर खान ने सलमान को वो छोटा बच्चा बना दिया जबकि फिल्म का जो सबसे क्यूट बच्चा था उसे कबीर ने इस्तेमाल ही नहीं किया।

कर गए थे झूठा वादा

कर गए थे झूठा वादा

कबीर खान फिल्म प्रमोशन के दौरान या तो डरे थे या फिर ओवर कॉन्फिडेंस में थे। वो कह गए कि अगर आपको लगता है कि बदरंगी सलमान की बेस्ट फिल्म है तो ट्यूबलाइट का इंतज़ार करिए। बस आधी फिल्म तो यहीं से फ्ल़ॉप हो गई थी। लोगों की उम्मीद बढ़ाकर कबीर खान ने बहुत बड़ी गलती कर दी थी।

बहुत लंबा नरेशन

बहुत लंबा नरेशन

फिल्म शुरू होती है और 15 मिनट तक शुरू ही नहीं हो पाती है। और बस यहीं से फिल्म छूट गई थी। दर्शक को फिल्म से कनेक्ट करने में काफी समय लग गया। ऐेसें में जब कनेक्शन बन ही नहीं पाया तो फिल्म छूूटती चली गई।

बहुत धीमी फिल्म

बहुत धीमी फिल्म

कबीर खान की फिल्में ज़्यादातर धीमी ही होती हैं। काफी समय तक फिल्म में कुछ होता ही नहीं है। बजरंगी भाईजान में इस धीमी गति को संभालते हैं और दौड़ा देते हैं नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी। लेकिन ट्यूबलाइट में इतना ठोस सपोर्टिंग कैरेक्टर था ही नहीं जो फिल्म चला सके।

एकदम अलग रही हैं कबीर खान की फिल्में

एकदम अलग रही हैं कबीर खान की फिल्में

कबीर खान की कहानियां बिल्कुल अलग रही हैं। ऐसे में ट्यूबलाइट से भी कुछ ऐसी ही उम्मीद थी। लेकिन कबीर खान ने रूपांतरण करने के लिए भी एक फ्ल़ॉप फिल्म उठाई और उसमें भी कास्टिंग गलत कर डाली। यही फिल्म की सबसे बड़ी गलती बन गई।

बेअसर हो गई फिल्म

बेअसर हो गई फिल्म

कबीर खान की हर फिल्म में थोड़ी गहराई होती जाती है और दर्शक उसी में़डूबता जाता है। लेकिन ट्यूबलाइट के साथ ऐसा हो नहीं पाया। ऊपर से सलमान खान इंटरटेनर हैं, इमोशन उनके बस का नहीं है। बजरंगी भाईजान में भी सलमान के हिस्से इंटरटेनमेंट ही था। कबीर खान यहां उसी इंटरटेनमेंट से चूक गए।

शुरू से कमज़ोर था यकीन

शुरू से कमज़ोर था यकीन

फिल्म पर कबीर खान का यकीन पहले पोस्टर से ही कमज़ोर पड़ चुका था। और इसलिए फिल्म एक बार जो गिरी तो उठ ही नहीं पाई। कबीर खान ने कई बार उसे उठाने की कोशिश भी की। यहां जानिए कैसे।

English summary
10 Reasons why Tubelight was a wrong choice for Salman Khan.
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi