जीवनी
महालक्ष्मी अय्यर एक भारतीय पार्श्व गायिका हैं। जो हिंदी के अलावा तेलुगु, गुजराती, कन्नड़, मराठी ,बंगाली ,तमिल फिल्मों में पार्श्व गायन करती हैं।

प्रष्ठभूमि 
महालक्ष्मी अय्यर का जन्म मुंबई में हुआ था। उनकी माँ एक शास्त्रीय गायिका हैं. उन्होंने अपनी तीन बहनों के साथ बेहद छोटी उम्र में ही संगीत सीखना शुरू कर दिया था।

पढाई 
महालक्ष्मी ने अपनी शुरुआती पढाई मुंबई से ही सम्पन्न की हैं। उन्होंने अर्थशास्त्र में मुंबई यूनीवर्सिटी से मानक डिग्री प्राप्त की है।

करियर 
महालक्ष्मी अय्यर ने अपने संगीत करियर की शुरुआत हिंदी फिल्म दस से साल 1997 में शंकर-एहसान-लोय के ट्राओ के साथ की थी।  उन्हें हिंदी सिनेमा में पहचान निर्देशक मणि रत्नम की फिल्म दिल से के गाने  'ए अजनबी' से मिली थी। उसके बाद उन्होंने कजी ऐड जिंगल्स में भी काम किया। उन्होंने हिंदी सिनेमा की कई हिट फिल्मों में अपनी आवाज दी, जोकि संगीत के कारण भी सुपरहिट साबित हुई। 

उन्होंने हिंदी सिनेमा के सबसे बड़े बैनर यशराज फिल्म्स के लिए भी कई बेहतरीन गानों में अपनी आवाज दी, जिनमे धूम2, बंटी और बबली, सलाम नमस्ते, और फना जैसी फ़िल्में शामिल हैं।उनके द्वारा गाये हिंदी गाने आज भी श्रोताओ की पहली पसंद हैं। उनके ऐसे कई गाने हैं जो एवरग्रीन सुपरहिट हैं, जिनमे कभी शाम ढले, हर तरफ, चुप चुप के चोरी से चुपके, बोल ना हल्के हल्के जैसे गाने शामिल हैं।

उन्होंने सिर्फ हिंदी फिल्मों में ही नहीं बल्कि गजलो में भी अपनी आवाज दी। हिंदी गानों और गजलों के अलावा उन्होंने अपने भी कई सुपरहिट एल्बम रिलीज किये, जिनमे दर्शकों की आजा पिया तोहे प्यार दो पहली पसंद बना हुआ है।
Buy Movie Tickets