»   » #OnPoint: कुछ फिल्में बॉक्स ऑफिस से कहीं ज़्यादा आगे के लिए बनी होती है!

#OnPoint: कुछ फिल्में बॉक्स ऑफिस से कहीं ज़्यादा आगे के लिए बनी होती है!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी अपनी अगली फिल्म मॉम के साथ धमाका करने को तैयार हैं और इस दौरान फिल्म को प्रमोट करते हुए उन्होंने बदलते हुए सिनेमा पर बात करते हुए कंटेंट पर ज़्यादा ध्यान देने वाली फिल्मों पर बात की।

फिल्मीबीट से एक इंटरव्यू में बातचीत के दौरान नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी ने बताया कि कुछ फिल्में ऐसी होती हैं जो बॉक्स ऑफिस से कहीं ज़्यादा आगे के लिए बनी होती हैं।

nawazuddin-siddiqui-talks-on-content-driven-cinema

गौरतलब है कि बॉलीवुड में हर साल कुछ ऐसी शानदार फिल्में ज़रूर आती हैं जो भले ही बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिर जाती हैं लेकिन लोगों के दिल में छप जाती हैं।

इन फिल्मों का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन भले ही किसी को ध्यान नहीं रहता हो लेकिन फिर भी ये फिल्में और इनके अभिनेता हमेशा लोगों के ज़ेहन में ताज़ा रहते हैं।

नवाज़ुद्दीन सिद्दीकी भी उन चंद एक्टर्स में शामिल हो चुके हैं, जो कंटेंट के बल पर तारीफें बटोरते हैं। चाहे वो बॉम्बे टॉकीज़ की छोटी सी शॉर्ट फिल्म हो या फिर मांझी द माउंटेन मैन की बायोपिक हो।

अब ज़माना आ चुका है 'नया सनीमा' का जहां स्टारडम नहीं अभिनय और कला परोसी जा रही है। और अब ये पूरी एक खेप हो चुकी है।

पिछले कुछ सालों में आई कुछ फिल्मों को देखकर लगेगा कि वाकई ये कला है। जिसे सराहा जाना चाहिए पर उसे सहेजने की भी बहुत ज़रूरत है और अब धीरे धीरे ये 'नए सनीमा' की खेप शाहरूख, सलमान की हवा निकाल रहा है।

नये सिनेमा का स्वागत

नये सिनेमा का स्वागत

कई ऐसे एक्टर्स हैं जिन्हें दर्शक अब सम्मान के साथ वो जगह दे रहे हैं जो एक कलाकार को मिलने चाहिए और इसका शाहरूख सलमान की स्टारडम से कोई लेना देना नहीं क्योंकि ये 'नया सनीमा' है!

जिम्मी शेरगिल

जिम्मी शेरगिल

जिम्मी शेरगिल ने माचिस से ही अपना जलवा दिखा दिया था और यशराज फिल्म्स ने उन्हें अपना नया चेहरा बनाया। लेकिन इसके बाद उनकी सफलता में केवल उनकी काबिलियत का योगदान है। 'यहां' से लेकर साहेब बीवी और गैंगस्टर, अ वेडनेसडे से तनु वेड्स मनु तक उनका सर्वश्रेष्ठ दिखा है। और राजा अवस्थी तो अपने यूपी वाले किरदार ही हैं फिर ;)

दिव्या दत्ता

दिव्या दत्ता

दिव्या दत्ता हमेशा लीक से हटकर चलीं और यही उनकी ताकत है और खासियत भी। दिल्ली 6 के एक छोटे से रोल में भी वो बाकियों को साईड कर अपना काम कर निकल गई थीं।

साकिब सलीम

साकिब सलीम

साकिब सलीम नए हैं और टैलेंटेड हैं और उतना उनके लिए काफी हैं। हवाहवाई को उनका करियर बेस्ट कहा जाए या बॉम्बे टॉकीज़ को इस बात पर थोड़ा डाउट है।

स्वरा भास्कर

स्वरा भास्कर

स्वरा भास्कर के अभिनय में जितनी सच्चाई है वो शायद ही आज के किसी एक्टर में देखने को मिलेगी। सीधा, सहज और सरल अभिनय उनकी ताकत है। यही वजह है कि रांझणा की बिंदिया के आगे ज़ोया भी फीकी सी लगीं।

 दीपक डोबरियाल

दीपक डोबरियाल

आपको पप्पी और ओमकारा का रज्जू पसंद आया होगा पर उनका करियर बेस्ट नॉट अ लव स्टोरी और गुलाल जैसी फिल्मों को माना जाएगा। शायद आपसे ये फिल्में मिस हो गई होंगी।

हुमा कुरैशी

हुमा कुरैशी

हुमा कुरैशी ने डेढ़ इश्किया जैसी फिल्म में माधुरी दीक्षित के सामने और साथ अपनी जगह बनाई और इसे अचीवमेंट कहते हैं जनाब।

मोहम्मद ज़ीशान अयूब

मोहम्मद ज़ीशान अयूब

अगर आपने नो वन किल्ड जेसिका देखी है तो आप उनसे नफरत करते होंगे। लेकिन रांझणा के मुरारी ने दिल जीता तो तनु वेड्स मनु में उन्होंने दिल जलाया!

रोनित रॉय

रोनित रॉय

रोनित रॉय की फैन फॉलोईंग आज की नहीं है। पर उनकी स्टारडम से ज़्यादा बड़ा है उनका अभिनय जो एक सीन से ही दिख जाता है। उनका करियर बेस्ट हम नहीं चुके सकते! [biased fan Laughing]

रिचा चड्ढा

रिचा चड्ढा

रिचा चड्ढा ने भोली बनकर जो कमाल उसने फुकरे में जान डाल दी। पर वसेपुर की नगमा ज़्यादा बेहतर या राम लीला की रसीला पता नहीं।

कंगना रनौत

कंगना रनौत

इस लिस्ट की क्वीन है कंगना रनौत। तनु और दत्तो को इतनी बेहतरी से निभाने की काबिलियत शायद कम लोगों में हो। फैशन की बिगड़ैल मॉडल से लेकर क्वीन की भोली सी रानी तक वो परफेक्ट हैं।

राजकुमार राव

राजकुमार राव

अगर क्वीन की बात हो तो उनके राजकुमार की बात भी होनी चाहिए। नए जेनेरेशन के बेस्ट एक्टर का खिताब उन्हें ही मिलना चाहिए। क्योंकि जितने वास्तविक ढंग से उन्होंने डॉली की डोली जैसी फिल्म में भी अपना किरदार जिया वो काबिले तारीफ है।

English summary
Nawazuddin Siddiqui talks on content driven cinema.
Please Wait while comments are loading...

रहें फिल्म इंडस्ट्री की हर खबर से अपडेट और पाएं मूवी रिव्यूज - Filmibeat Hindi