Blackmail Review: इरफान खान की शानदार परफॉर्मेंस, लव-सेक्स-धोखा और कॉमेडी का जबरदस्त कॉम्बो


Rating:
3.5/5
Star Cast: इरफ़ान खान, कीर्ति कुल्‍हारी, उर्मिला मातोंडकर, अरूणोदय सिंह, दिव्‍या दत्‍ता
Director: अभिनय देव

दिल के आगे, जिगर के पार, दो कौड़ी का निकला प्यार ! हाल ही में रिलीज हुई इरफन कान की फिल्म ब्लैकमेल 'लव सेक्स और धोखा' की थीम पर आधारित है। एक मिसफिट कपल जो कि एक बिना प्यार वाली शादी में स्ट्रगल करता है और फिर शुरू होता है 'ब्लैकमेल' का गेम। जिसमें किसी को एक-दूसरे के इरादों के बारे में कुछ नहीं पता। ब्लैकमेल का सबसे बेहतरीन पार्ट है इसका शानदार लेखन, जो आपको आखिर तक फिल्म से बांधे रखता है। ये इरफान खान की जबरदस्त एंटरटेनिंग फिल्म है जो आपको ठहाके लगाने के मौके बार-बार देती है।

Blackmail Movie Review: Irrfan Khan, Kirti Kulhari, Arunoday Singh Shine | FilmiBeat

प्लॉट की बात करें तो, देव(इरफान खान) और रीना (कीर्ती कुल्हारी) की शादीशुदा जिंदगी बेहद खराब चल रही है। एक दिन ऑफिस में देव का एक दोस्त आनंद (प्रद्युमन सिंह) उसे अपनी शादीशुदा जिंदगी में कुछ स्पार्क लाने के लिए ऑफिस से जल्दी घर जाकर अपनी वाइफ को स्वीट सरप्राइज देने का सुझाव देता है।

बदकिस्मती से घर जाकर देव को ही सरप्राइज मिल जाता है। वो अपनी पत्नी को रंजीत (अरुनोदय सिंह) के साथ बेड पर देख लेता है।.. तो क्या उसने अपनी पत्नी के प्रेमी को पीट दिया या फिर अपनी बीवी के सामने कारनामों का उसके सामने जाकर खुलासा कर दिया.. नहीं ऐसा बिल्कुल नहीं हुआ।

दिल टूटने के बाद ये बेचारा पति अब बदला लेने का प्लान बनाता है और पत्नी के प्रेमी को ब्लैकमेल करना शुरू कर देता है। वहीं इसी बीच पता चलता है कि ये प्रेमी एक ऐसी बीवी डॉली (दिव्या दत्ता) का पति है जो उसे नीचा दिखाने का कोई मौका नहीं छोड़ती। कहते हैं न कि जैसा करोगे, वैसा ही तुम्हे भी मिलेगा। वहीं यहां से शुरू होता है जबरदस्त वारदातों और ब्लैकमेल का सिलसिला।

अभिनय देव जिन्हें डायरेक्टोरिय डेब्यू फिल्म दिल्ली बेली के लिए कामयाबी के साथ-साथ काफी आलोचनाएं भी मिली थीं। बाद में इनकी दिल्ली सफारी और फोर्स 2 जैसी फिल्में ऑडिएंस को कुछ खास इंप्रेस नहीं कर पाईं। वहीं अब इरफान खान की ब्लैकमेल के साथ अभिनय ने धमाकेदार वापसी की है। ब्लैकमेल को खास बनाता है इस फिल्म का अनोखा कॉन्सेप्ट और सिचुएशनल ह्यूमर। जिसका मतलब है कि फिल्म के मैसेज को भी मजाक में ही लेना चाहिए। अभिनय ने इस फिल्म के हर किरदार पर जबरदस्त पकड़ रखी है।

दूसरी तरफ फिल्म में कहानी आगे बढ़ने के लिए अपना पूरा समय भी लेती है, जो आपको थोड़ा सा बेचैन भी कर सकता है। वहीं फिल्म की धीमी रफ्तार भी हर किसी को पसंद नहीं आ सकती। 139 मिनट के दौरान ब्लैकमेल अपना ट्रैक खो देती है तो एक ही चीज बार-बार दोहराई मालूम होती है।

फिल्म के पहले फ्रेम से लेकर आखिरी फ्रेम तक, इरफान खान ने सारा शो अपने नाम किया है। उनका पोकर-फेस ह्यूमर फिल्म में मजाकिया एंगल जोड़ता है। वहीं दूसरी तरफ ऐसा कोई सीन दिखाई नहीं देती जिसमें इरफान खान की कमी निकाली जा सके। फिल्म में एक सीन है जहां इरफान खान अपनी बीवी के लिए फूलों का गुल्दस्ता मुर्दाघर से ले जाते हैं, ये सीन वाकई बेहतरीन लगा है।

कृति कुल्हारी रीना के किरदार में शानदार परफॉर्मेंस दे गई हैं। वहीं अरुनोदय सिंह भी फिल्म में कुछ कम नहीं लगे हैं, उन्हें स्क्रीन पर देखना अच्छा अनुभव रहा। डॉमिनेटिंग बीवी के किरदार में दिव्या दत्ता ने भी जबरदस्त परफॉर्मेंस दी है। उन्हें फिल्म में शायद थोड़ा और स्क्रीन टाइम मिलना चाहिए था। प्रद्युमन सिंह, गजराज राव और अनुजा साथे भी कमाल लगे हैं। वहीं ओमी वैद्य ने भी काफी मजेदार कॉमेडी की है।

जय ओजा की सिनेमैटोग्राफी बेहतरीन है। हालांकि हौजेफा लोखंडवाला की एडिटिंग कुछ जगहों पर काफी खराब लगी है।

अमित त्रिवेदी और अमिताभ भट्टाचार्या का म्यूजिक और लिरिक्स फिल्म में तो अच्छे लगते हैं लेकिन ऑडिएंस को याद नहीं रह पाते। वहीं उर्मिला मातोंडकर का स्पेशल एपीयरेंस भी बेवफा निकला!

पूरी तौर पर ये इरफान खान की ब्लैकमेल एक रोलर-कोस्टर हैं जिसके अपने उतार चढ़ाव हैं। इस फिल्म का गाना कुछ इस तरह है 'बेवफा ब्यूटी, हाय इश्क में चीटिंग कर गई!' लेकिन डायरेक्टर अभिनय देव ने फिल्म के लिए इमानदार रहे हैं अनोखे कॉन्सेप्ट और मजाकिया अंदाज के साथ शानदार फिल्म बनाई है। अगर आप इस वीकेंट पर कुछ हटके और ब्लैक कॉमेडी देखने का मन बना रहे हैं तो ब्लैकमेल जरूर देखने जाएं।

Have a great day!
Read more...

English Summary

Blackmail movie review: Irrfan Khan's Blackmail is a roller-coaster with its own set of ups and downs. A song in the film goes like 'Bewafa Beauty, Haaye, Ishq Mein Cheating Kar Gayi! But director Abhinay Deo stays true to his words and delivers a film that's high on quirky quotient.