»   » ये है मोहब्बतें..छोड़िये इशिता और रमन..ये हैं सीरियल की जान!

ये है मोहब्बतें..छोड़िये इशिता और रमन..ये हैं सीरियल की जान!

Written by: Shweta
Subscribe to Filmibeat Hindi

ये है मोहब्बतें में सब कुछ फिलहाल अजीब ही चल रहा है।शायद आपको भी लगे कि ये सीन कुछ हजम नहीं हुआ।एक के एक बाद लगातार पूरे एपिसोड में कुछ कुछ ऐसा ही होता रहा है।खैर सीरियल है तो इसकी हमें और आपको आदत भी है जब सीन हजम हो जाए तो सीरियल काहे का।

एक्सपायरी दवा खाकर पीहू की तबियत खराब हो जाती है और वहां आकर रूही उसे हॉस्पिटल ले जाती है। पीहू की तबियत अच्छी खासी खराब होती है इसलिए वो जल्दी जल्दी उसे हॉस्पिटल पहुंचाती है।

[ये है मोहब्बतें..करण-इशिता का पता नहीं लेकिन इनका मिलना पक्का है!]

हॉस्पिटस में तो उसके साथ और भी ट्रेजडी हो जाती जब नीधि पहुंच जाती है।इधर आदि रमन के खिलाफ कंप्लेन लेने से मना कर देता है।

काफी समझाने बुझाने के बाद आदि कंप्लेन ले लेता है।फिलहाल तो सीरियल में एक धमाका और होना बाकी है और वो है रमन और शगुन की शादी का धमाका।फिलहाल क्या कुछ हुआ ये है मोहब्बतें में जानिये आगे की स्लाइड्स पर।

पीहू को चाहिए पापा

रमन के अरेस्ट होने के बाद पीहू इमोशनल हो जाती है और उसे बुखार आ जाता है।

गलत दवा से हुई क्रिटिकल

नीलू उसे एक्सपायरी डेट वाली दवा दे देती है।वैसे सिम्मी उसे बोलती है कि ड्रॉवर में जो दवा पड़ी है दे देने और पीहू की हालत और खराब हो जाती है।

रूही पहुंची घर

रूही पीहू की आवाज सुनक घर के अंदर चली जाती है और उसकी हालत सीरियस देखकर उसे तुरंत लेकर चली जाती है।

रमन को जेल

इधर रमन की कंप्लेन करने के बाद पीरा भल्ला और अय्यर परिवार पुलिस स्टेसन ही आजा है और आदि रमन के खिलाफ कंप्लेन लेने से मना कर देता है।

नीधि पहुंची हॉस्पिटल

नीधि हॉस्पिटल पहुंचती है और रूही को कहती है कि वो यहां से चली जाए।वो सब तो ठीक है लेकिन वो हॉस्पिटल पहुंची कैसे ये सीन तो हमें भी कुछ समझ नहीं आया।

रूही ने सुनाया नीधि को

अब नीधि अगर बोलेगी की पीहू को मरने छोड़ दो तो रूही को तो गुस्सा आएगी ही ना।बस फिर क्या सुना दी नीधि को अच्छा खासा। 

रूही हुई इमोशनल

रूही को पीहू दीदी कह कर बुलाती है और बस पीहू इमोशनल होती है । आपको याद होगा की रूही भी जब छोटी थी तो हमेशा से उसे एक छोटी बहन चाहिए थी।

रोमी ने भी लगाई झाड़

रोमी के दिल में भी घर के लिए और सबके लिए लगता है प्यार उतना ही है तभी तो सूरत जैसे ही बोलता है पीहू और सीरियस हो जाए तो और अच्छा रहेगा बस रोमी का पारा हाई और सूरज को किया गेटआउट। 

अब समझाने चली इशिता

इतनी देर पुलिस स्टेशन में बिताने के बाद इशिता आदि को समझाती है कि कंप्लेन वापस ले ले ।

आगे...

आगे तो अभी इशिता को और भी बहुत कुछ झेलना है। वो क्या सोचकर परिवार एक करने आई जबकि उसके आने के बाद मुश्किले और बढ़ती ही जा रही हैं।हॉस्पिटल में रमन सगुन को पीहू की असली मां कहता है और इशिता को हमेशा की तरह इग्नोर करता है।

English summary
Pihu gets critical Ruhi admits her to hospital and saves her and also threaten Nidhi to expose everything.
Please Wait while comments are loading...

Bollywood Photos

Go to : More Photos