»   » ये है मोहब्बतें..कोई आए..कोई जाए..रमन-इशिता एक होंगे ये पक्का है!

ये है मोहब्बतें..कोई आए..कोई जाए..रमन-इशिता एक होंगे ये पक्का है!

Written by: Shweta
Subscribe to Filmibeat Hindi

जिस दिन का ये है मोहब्बतें के फैन्स बेसब्री से इंतजार कर रहे थे वो दिन आ ही गया। जी हां वो सबकुछ सीरियल में फिलहाल हो गया जो सभी चाह रहे थे कि हो शिवाय इसके की रूही रमन और इशिता को वापस मिल गई।

जी हां बहुत इंटरेस्टिंग चल रहा है। सीरियल में सस्पेंस, ड्रामा सब जबरदस्त है। ये है मोहब्बतें में ये तो हमने आपको बताया था कि जैसे ही रोमी आकर ये बताता है कि नीधी जिंदा है, फेरे बीच में ही छोड़कर रमन वहां से चला जाता है और इशिता के पास आ जाता है।

[आखिर सूरज और विक्रम कैसे बन गए हनुमान और स्पाइडरमैन]

नीधि पूरी कोशिश करती है कि किसी भी तरह वो होटल से भाग जाए लेकिन ऐसा वो कर नहीं पाती और बस यहीं से सीरियल का इंटरेस्टिंग पार्ट शुरू हो जाता है।बीच में फंस कर रह जाती है रूही जिसे समझ नहीं आता कि उसे अब क्या करना चाहिए।

शगुन अगर वापस पहले वाली शगुन बन जाए तो कुछ शॉकिंग या अलग तो लगने का सवाल ही नहीं है।बस देखने वाली बात ये है कि कहीं वो पीहू को बचपन वाला आदि ना बना दे। खैर, फिलहाल आप आगे की स्लाइड्स पर देखिए क्या कुछ हुआ सीरियल में। 

CID वाला दिमाग

रमन शादी छोड़कर होटल तो पहुंच जाता है लेकिन किसी को भी नीधी का कुछ पता नहीं चलता और रमन लगाता है अपना CID वाला दिमाग। असल में एक औरत बुर्के में जा रही होती है और उसका ब्रेसलेट ऊँ का होता है और रमन उसे रोक लेता है।

नीधी आई हाथ में

रमन उसे रोकता है और और बुर्का हटाता है और बस नीधी उसके सामने होती है। नीधी कोशिश भी करती है कि वहां से भाग जाए लेकिन रमन के सामने भाग पाना नामुमकिन ही है।

इशिता को मिला चैन

नीधी को हात आया देखकर सबसे ज्यादा चैन इशिता को मिलता है। आखिर रूही के जिंदा होने की पूरी उम्मीद इशिता को मिल जाती है।

नीधी कस्टडी में...

नीधी आखिरकार पुलिस कस्टडी में आ जाती है और सब मिल कर उससे रूही के बारे में पताकरने की कोशिश करते हैं।

मिला टिकट

सामान की तलाशी लेने पर रूहान और नीधी का एयर टिकट मिलता है और सबको कुछ गड़बड़ होने की पूरी आशंका लगती है। अब सीरियल है नहीं तो बैग में विग देखकर कोई भी समझ जाएगा कि क्या खिचड़ी पक रही है।

रूही का कन्फ्यूजन

अब अगर सबकुछ इंटरेस्टिंग चल रहा हो तो और सस्पेंस देखना अच्छा लगता है। जैसे रूही को कुछ भी नहीं पता और उसे लगता है कि उसकी नीधी मैम उससे गुस्सा है।

अशोक ने भी दिया धोखा

अशोक को नीधी कॉल करती है कि वो अपने सोर्स लगाकर उसे पुलिस कस्टडी से बाहर निकाले लेकिन वो शायद अशोक को नहीं पहचानती। वो सांसद है तो इन मामलों में फंसना नहीं चाहता और पुलिस को मना कर देता है कॉल करने से ।

नीधी को रूही का साथ!

नीधी को खोजते खोजते रूही उसके कमरे में पहुंचती है जहां सबको देखती है।नीधी ये सोचकर खुश हो जाती है कि रूही उसकी मदद कर रही है।

लौटी पुरानी शगुन

इधर शगुन अंधेरे कमरे में अकेले बैठी होती है और मीहिर उसे मिलने आता है। शगुन बताती है कि इशिता वापस आकर पूरा परिवार वापस ले लेगी और खासकर जब रूही वापस आएगी तो इशिता और रमन एक हो जाएंगे। इतना तो पक्का है कि शगुन इससे भी खुश नहीं है कि रूही शायद वापस आ जाए। उसे सिर्फ रमन और पीहू से मतलब है।

आगे क्या...

आगे रूही और रूहान का कन्फ्यूजन कब खत्म होगा ये तो फिलहाल हम भी नहीं बता सकते लेकिन ये है कि रूही तक पहुंचने के लिए इशिता और रमन को काफी पापड़ बेलने पड़ेंगे। इधर शगुन की अलग ही कहानी है।वो रमन और इशिता को साथ में देखकर खुश नहीं होगी और आगे कई और तमाशा होना भी पक्का है।

English summary
Raman finally caught Nidhi who trying to escape from hotel in burka and they ask her about Ruhi.
Please Wait while comments are loading...

Bollywood Photos

Go to : More Photos