»   » Review - राजकुमार राव की दमदार परफॉर्मेंस के लिए देखें Trapped

Review - राजकुमार राव की दमदार परफॉर्मेंस के लिए देखें Trapped

राजकुमार राव की फिल्म ट्रैप्ड रिलीज हो चुकी है। जानिए फिल्म की पूरी समीक्षा और हमने फिल्म को दिए हैं कितने स्टार।

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi
Rating:
3.0/5

फिल्म - ट्रैप्ड
स्टारकास्ट - राजकुमार राव, गीतांजलि थापा
डायरेक्टर - विक्रमादित्य मोटवानी
प्रोड्यूसर - मधु मंतेना, विकास बहल, अनुराग कश्यप
लेखक - अमित जोशी, हार्दिक मेहता
शानदार पॉइंट -राजकुमार राव, कॉन्सेप्ट
निगेटिव पॉइंट - कहीं कहीं स्क्रिप्ट आपकी खिंची हुई लगेगी

प्लॉट

प्लॉट

शौर्य (राजकुमार राव) मन ही मन में अपनी सहकर्मी नूरी (गीतांजली थापा) को पसंद करता है। कई बार सोच विचार हां ना करने के बाद वो अपना प्यार कुबूल करता है। दोनों एक दूसरे से शादी करने के लिए तैयार होता हैं लेकिन नूरी की एक एक शर्त होती है कि उसे खुद का एक फ्लैट खरीदना होगा। शौर्य को आखिरकार एक Isolated फ्लैट अच्छी सोसाइटी में मिल जाता है और वो शिफ्ट भी कर जाता है।

प्लॉट

प्लॉट

बदकिस्मती से वो अपने ही फ्लैट में लॉक हो जाता है। उसे आखिरकार कैसे इस अंधेरे और अलगाव से मुक्ति मिलेगी ये देखने के लिए आपको सिनेमाघरों तक जाना पड़ेगा।

डायरेक्शन

डायरेक्शन

ट्रैप्ड को बॉलीवुड का पहला सर्वाइविल थ्रिलर कहा जा रहा है। डारेक्टर विक्रमादित्य मोटवानी मुंबई शहर को दिखाते हुए अपने मुख्य कैरेक्टर पर पूरी तरह से केंद्रित रहे हैं। ये बहुत बहादुरी का काम है कि एक ऐसा कॉन्सेप्ट लाना जिसपर बॉलीवु़ड में कभी किसी ने कोई फिल्म नहीं बनाया हो। उन्होंने फिल्म में सबकुछ बिल्कुल सही तरीके से दिखाया है बस कुछ जगहों पर उन्होंने थोड़ा ज्यादा Dramatic दिखा दिया गया और अगर इसपर काम किया जाता तो शायद फिल्म और भी निखर कर सामने आती लेकिन इसमें कोई शक नहीं है कि फिल्म और राजकुमार राव आपका
दिल जीतने में कामयाब रहेंगे।

परफॉर्मेंस

परफॉर्मेंस

राजकुमार राव ने एक बार फिर साबित कर दिया किया कि वो क्या है। उनकी इस परफॉर्मेंस की जितनी भी तारीफ की जाए कम ही होगी। बहुत ही कम डायलोग और स्पेस के साथ उन्होंने डॉरविन थ्योरी ऑफ सरवाइवल को पूरी तरह से साबित कर दिया कि कैसे ये दुनिया में सटीक बैठती है। फिल्म में ये देखना मजेदार है कि कैसे आसानी से डर जाने वाला जो खाने के लिए कबूतर का शिकार करता है, मीट खाता है। उनके कैरेक्टर का फिल्म में जो कायापलट दिखाया है वो बहुत ही अच्छा है।

तकनीकी पक्ष

तकनीकी पक्ष

ट्रैप्ड में डायलोग बहुत कम हैं और फिल्म पूरी एक्शन और इमोशन पर टिकी हुई है। सिद्धार्थ दिवान ने फिल्म को बेहद खूबसूरती से फिल्माया है। हालांकि फिल्म को थोड़ा छोटा किया जा सकता था।

संगीत

संगीत

फिल्म में धीमी को छोड़कर कोई भी गाना नहीं है जो फिल्म के लिए काम कर जाता है क्योंकि इससे फिल्म की गति नहीं टूटती है। फिल्म का बैकग्राउंड म्यूजिक भी फिल्म के हिसाब से
बेहतरीन है।

Verdict

Verdict

आप एक बाद शौर्य (राजकुमार राव) की दुनिया में ट्रैप्ड होकर देखिए अगर आप रेगुलर पॉपकोर्न एंटरटेनमेंट के साथ कुछ अलग देख रहे हैं। यह फिल्म राजकुमार राव की एक्टिंग के लिए
देखने जरुर जाइए।

English summary
Trapped movie review - Directed by Vikramaditya Motwani, featuring Rajkumar Rao.
Please Wait while comments are loading...

Bollywood Photos

Go to : More Photos