»   » REVIEW -शाहरुख, नवाजुद्दीन स्टारर ये फिल्म परफॉर्मेंस में है दमदार

REVIEW -शाहरुख, नवाजुद्दीन स्टारर ये फिल्म परफॉर्मेंस में है दमदार

शाहरुख खान की रईस आज रिलीज हो गई। जानिए कैसी है फिल्म और पढ़िए फिल्म रिव्यू।

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi
Rating:
3.0/5

कास्ट - शाहरुख खान, नवाजुद्दीन सिद्दीकी, मो.जिशान अयूब, माहिरा खान

डायरेक्टर - राहुल ढोलकिया,

प्रोड्यूसर- फरहान अख्तर, रितेश सिधवानी, गौरी खान

लेखक- राहुल ढोलकिया, हरित मेहता, आशिष वाशी, नीरज शुक्ला

अच्छा - शाहरुख खान, नवाजुद्दीन सिद्दीकी

बुरा - ढंढा लेखन, शाहरुख माहिरा का ठंढा रोमांस

कब लें ब्रेक - इंटरवल

प्लॉट

प्लॉट

फिल्म की कहानी गुजरात के फतेहपुर की है जहां फिल्म की शुरूआत होती है एक छोटे बच्चे रईस आलम से जो गरीबी के कारण शराब तस्करी में आ जाता है। स्कूल में उसे ब्लैकबोर्ड पर पढ़ने में दिक्कत होती है।पड़ोस का डॉक्टर उसे चश्मा लेने की सलाह देता है। चश्मा पहनने के बाद रईस आलम हर किसी को वार्निंग देता है 'बैट्री नहीं बोलने का'।शराब तस्करी के लिए पड़े छापे में उसकी अम्मी उसे बचाने जाती है और होलती हैं 'कोई धंधा छोटा या बड़ा नहीं होता और धंधे से बड़ा कोई धर्म नहीं होता'। बस इसको रईस अपनी जिंदगी का मूलमंत्र बना लेता है। इसके बाद रईस शराब के बिजनस में अपने दोस्त सादिक के साथ आ जाता है और शराब तस्कर के बादशाह जयराज सेठ का दायां हाथ बन जाता है और 'बनिये का दिमाग और मियांभाई की डेयरिंग' को सब जानते हैं।

प्लॉट

प्लॉट

जैसे जैसे समय बीतता है रईस अपना खुद का बिजनस शुरू करना चाहता है। सादिक (मो.जिशान अयूब) रईस का बेस्ट फ्रेंड है। रईस अपने Empire का बॉस बन जाता है। पुलिस, नेता हर किसी से उसकी सांठ गांठ है और उसका काम होता रहता है। लेकिन वो साथ ही साथ देसी रॉबिनहुड भी है। चाहे उसके पड़ोसी हो, मोहल्ले वाले या कोई और वो कभी मदद करने से हिटकिचाता नहीं है। कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब उसकी मुलाकात इंस्पेकटर जयदीप मजुमदार से होती है जिसका ट्रांसफर रईस के इलाके में होता है।जयदीप मजुमदार का एक ही इरादा होता है कि रईस के बिजनस को मिट्टी में मिला देना है। उसे आप कहते सुनेंगे कि 'रईस का और मेरा रिश्ता बड़ा अजीब है..पास रह नहीं सकता और साला दूर जाने नहीं देता'। इसके बाद फिल्म चुहे-बिल्ली का खेल शुरू होता है और अंत क्या होता है ये आपके लिए सीक्रेट रखना ही बेहतर होगा।

डायरेक्शन

डायरेक्शन

राहुल ढोलकिया आपको इस फिल्म में आपको दीवार और अग्निपथ की याद दिलाएगी जिसमें हीरो के आगे सब फीके नजर आते हैं, हीरो की मां है जिसे वो बहुत चाहता है और उसे वो जिंदगी के कुछ टिप्स देती है। फिल्म में आइटम सॉन्ग है, मारधाड़ है, पुलिस है। असल में रईस एक परफेक्ट कॉर्मसियल फिल्म है जिसका अंत भी बेहतरीन है और क्रेडिट शाहरुख-नवाजुद्दीन की परफॉर्मेंस को जाता है।

परफॉर्मेंस-शाहरुख खान

परफॉर्मेंस-शाहरुख खान

शाहरूख खान की परफॉर्मेंस के बारे में कुछ भी कहना कम ही होगा। शाहरुख खान का रफ एंड टफ अवतार, फाइट, डायलोगबाजी,एटिट्यूड के साथ आपको काफी सेक्सी लगे हैं। पठानी सूट में शाहरुख खान को स्क्रीन पर देखकर आपको मजा आ जाएगा। फिल्म में कई मोमेंट हैं जहां शाहरुख आपका दिल जीत लेंगे तो कभी हो सकता है आपकी आंखों में आंसू भी आ जाए।

परफॉर्मेंस-नवाजुद्दीन सिद्दीकी

परफॉर्मेंस-नवाजुद्दीन सिद्दीकी

नवाजुद्दीन सिद्दीकी पूरे फिल्म में आपको इंप्रेस करने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे। एक्टिंग से लेकर डायलोग डिलीवरी तक उनकी जबरदस्त है। फिल्म में उन्हें देखना मजेदार है।

परफॉर्मेंस-माहिरा खान

परफॉर्मेंस-माहिरा खान

माहिरा खान का फिल्म में कुछ खास रोल नहीं है। फिल्म में उनके और शाहरुख खान के रोमांटिक एंगल को दिखाया गया है लेकिन फिल्म में उनका केमेस्ट्री में बात नजर नहीं आ रही। कहीं कहीं वो आपको बोर भी करेंगे। सब मिलाकर माहिरा का डेब्यू कुछ खास नहीं रहा।

परफ़ॉर्मेंस-मो जिशान अयूब

परफ़ॉर्मेंस-मो जिशान अयूब

जिशान अयूब का इस्तेमाल फिल्म में बेहतरीन तरीके से नहीं हो पाया। उनका और भी बेहतर इस्तेमाल किया जा सकता है। उनकी एक्टिंग काबिल ए तारीफ है।

टेक्निकल दृष्टि से

टेक्निकल दृष्टि से

रईस और भी अच्छी फिल्म हो सकती थी अगर राइटिंग पर थोड़ा और ध्यान दिया जाता। फिल्म में एक से बढ़कर एक परफॉर्मेंस है और फिल्म कहीं कहीं स्लो भी है लेकिन फिल्म के डायलोग शानदार हैं और मिलाजुलाकर फिल्म आपको एंटरटेन करेगी।

म्यूजिक

म्यूजिक

फिल्म में सनी लियोन का लैला गाने के अलावा जालिमा और उड़ी उड़ी जाए हिट हो चुका है लेकिन फिल्म देखकर निकलने के बाद कोई गाने हो सकता है आपको याद भी ना रहें।

फाइनल Verdict

फाइनल Verdict

अगर आप शाहरुख खान को इंटेंस रोल में फाइटिंग करते देखना चाहते हैं तो आपको फिल्म देखकर मजा आएगा। फिल्म के डायलेग दिन और रात शेर का होता है शेरों का जमाना होता है आपके मुंह पर चढ़ जाएगा और फिल्म के अंत तक आपको हो सकता है शाहरुख से ज्यादा नवाजुद्दीन सिद्दीकी से प्यार हो जाए।

English summary
Raees movie review is here. Directed by Rahul Dholakia, featuring Shahrukh Khan Mahira Khan and others, read on to know how the movie is!
Please Wait while comments are loading...

Bollywood Photos

Go to : More Photos