»   » Review : धीमी फिल्म.. लेकिन अनुष्का और दिलजीत के लिए जरुर देखें फिल्लौरी

Review : धीमी फिल्म.. लेकिन अनुष्का और दिलजीत के लिए जरुर देखें फिल्लौरी

अंशई लाल की फिल्म फिल्लौरी रिलीज हो चुकी है। जानिए फिल्म की पूरी समीक्षा और हमने फिल्म को दिए हैं कितने स्टार।

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

Rating:
2.5/5

फिल्म - फिल्लौरी
स्टारकास्ट -अनुष्का शर्मा, दिलजीत दोसांझ
डायरेक्टर - अंशई लाल
प्रोड्यूसर - अनुष्का शर्मा, कर्णेश शर्मा
लेखक - अनविता दत्त
शानदार पॉइंट - कहानी , परफॉर्मेंस

निगेटिव पॉइंट - फिल्म काफी धीमी है

प्लॉट

फिल्लौरी में आप टिपिकल पंजाबी शादी दिखाई गई है। फिल्म में आदि है जो सुबह 9 बजे भी पटियाला पेग लेने से परहेज नहीं करता। फिल्म में खूब सारा नाच गाना है। 26 साल का कनन (सुरज शर्मा) कनाडा से अपनी बचपन की दोस्त अन्नु से शादी करने आते हैं (महरीन पिरजादा)। पता चलता है कि कनन मांगलिक है और उसे अन्नु से शादी करने से पहले एक पेड़ से शादी करनी होगी। पंडित कहते हैं कि मांगलिक की शादी पेड़ से होने के बाद सभी खतरों का अंत हो जाएगा। इसलिए कनन पेड़ से शादी करने के लिए परिवार के साथ फिल्लौर जाता है।

प्लॉट

शादी से एक दिन पहले उसके हाथ पैर ठंढे पड़ जाते हैं और एंट्री होती है उसकी पेड़ से शादी वाली दुल्हन फिल्लौरी (अनुष्का शर्मा) जिसकी खुद की 98 साल पुरानी दुख भरी प्रेम कहानी है। कनन के साथ एक और शख्स है जो फिल्लौरी के अधुरे काम को पूरा करने में उसकी मदद करेगा। बाकी पूरी कहानी जानने के लिए आपको फिल्म देखनी होगी।

डायरेक्शन

अंशाई लाल ने फिल्लौरी के साथ अच्छा डेब्यू किया है लेकिन फिल्म के धीमे संवाद फिल्म की कमजोड़ कड़ी हैं। फिल्म में दो लव स्टोरी पैरेलल में एक साथ चलती हैं जो खूबसूरती के साथ दिखाया गया है। बस फिल्म को थोड़े और बेहतरीन तरीके से लिखा जा सकता था।फिल्म की शुरूआत बहुत ही अच्छी है। कई मजेदार सीन हैं। धीरे धीरे कहानी अनुष्का और दिलजीत पर आती है और आपको लगेगा कि फिल्म काफी धीमी चल रही है। फिल्म के क्लाइमैक्स पर और काम करना चाहिए था। क्लाईमैक्स देखकर आपकी फिल्म से जुड़ी जो भी अच्छी यादें होंगी खत्म हो जाएगी।

परफॉर्मेंस

कनन के रोल में सूरज शर्मा अच्छे लगे हैं और उन्होंने अपने हिस्से के रोल को बखूबी निभाया है। अनुष्का शर्मा का भूत का किरदार बॉलीवुड के बाकी भूतों के किरदार से काफी अलग है। उन्होंने शानदार एक्टिंग की हैं लेकिन पब्लिक को बोर होने से नहीं बचा पातीं। दिलजीत दोसांझ सूफी सिंगर के किरदार में एक बार भी आपका दिल जीत लेंगे। उन्होंने कमाल की परफॉर्मेंस दी है। मेहरीन पिरजादा के पास एक दो सीन छोड़कर करने के लिए कुछ खास नहीं था लेकिन उनकी भी तारीफ करने से आप खुद को रोक नहीं पाएंगे।

तकनीकी पक्ष

तकनीकी पक्ष की बात की जाए तो फिल्म काफी अच्छी है। फिल्म में डायलोग, कविताएं सब आपको इंप्रेस करेंगी। अनविता दत्त ने प्यार और दिल टूटने के दो अलग अल समय की कहानी को बेहतरीन तरीके से लिखा है। सिर्फ फिल्म को और अच्छे से एडिट किया जा सकता था।

म्युजिक

दम दम, साहिबा बहुत ही खूबसूरत सूफी गाने हैं जो आपका दिल छू लेंगे। बाकी गाने कुछ खास छाप नहीं छोड़ पाते।

Verdict

ये एक अच्छी रोमांटिक कॉमेडी फिल्म है लेकिन अंत तक फिल्म काफी बोरिंग हो जाती है। लेकिन एक बार तो देखने आप जा ही सकते हैं।

English summary
Phillauri Directed by Anshai Lal, featuring Anushka Sharma Diljit Dosanjh .
Please Wait while comments are loading...

Bollywood Photos

Go to : More Photos