» 

ये हीरो स्वीट, इनोसेंट या स्वामी टाइप का नहीं है- मैं तेरा हीरो रिव्यू

Posted by:
 
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+    Comments Mail

"मैं दिखता हूं बहुत ही स्वीट, इनोसेंट, स्वामा टाईप का, लेकिन मैं हूं बहुत ही हरामी टाइप का..." कुछ ऐसे ही क्रिस्पी और हंसने पर मजबूर कर देने वाले डायलॉग्स से भरी फिल्म मैं तेरा हीरो आज सिनेमाॉल में रिलीज हो रही है। स्टूडेंट ऑफ दी ईयर के स्टूडेंट वरुण धवन ने इस फिल्म में इतनी धमाकेदार और एनर्जी से भरी परफॉर्मेंस दी है कि फिल्म को देखने के बाद गारंटी के साथ आप बाहर आते हुए फिल्म के गाने गाते हुए निकलेंगे। फिल्म में वरुण धवन की इतनी बेहतरीन परफॉर्मंस है कि ये कह पाना बहुत ही मुश्किल है कि ये वरुण धवन की दूसरी फिल्म है। वरुण ने अपनी दूसरी फिल्म से ही अपनी स्टार पावर को इतनी बेहतरीन तरीके से पेश किया है कि जितना कई सालों पुराने एक्टर भी करने में चूक जाते हैं।

वरुण धवन के हर एक सीन, हर एक हाव भाव, एक्शन को देखकर यूं लग रहा था कि जैसे गोविंदा का पुनर्जन्म हो गया हो। गोविंदा जिनका कॉमेडी में कोई तोड़ नहीं हैं उन्हें वरुण धवन ने अपनी एक्टिंग से काफी तगड़ी टक्कर दी है। हालांकि गोविंदा के साथ किसी भी एक्टर को कंपेयर करना गलत होगा क्योंकि उनके लेवल तक पहुंच पाना बहुत ही मुश्किल है। लेकिन गोविंदा के गुरु डेविड धवन ने अपने बेटे वरुण को उसी तरह से नैरेट किया है जैसे कि गोविंदा उनकी फिल्मों में हुआ करते थे। गोविंदा के स्क्रीन पर आने के बाद किसी और पर दर्शकों का ध्यान जाता ही नहीं था। कुछ ऐसा ही मैं तेरा हीरो में वरुण धवन के किरदार के साथ हुआ।

फिल्म का हर एक किरदार अपने में ही परफेक्टल था। हालांकि इलियना डी क्रूज से कहीं ज्यादा बेहतर नर्गिस फाखरी नज़र आई हैं लेकिन जहां तक एक्टिग की बात है तो वरुण के अलावा अनुपम खेर, सौरभ शुक्ला और राजपाल यादव ने अपना बेस्ट दिया है। इसके अलावा नर्गिस और इलियाना को अगर फिल्म की सजावट कहा जाए तो गलत नहीं होगा। फिल्म के गाने बेहतरीन हैं। खासतौर पर फिल्म में ये जवानी है दीवानी फिल्म के गाने बद्तमीज दिल को भगवान शिव के भक्ति गाने के रुप में जो रीमेक किया है वो बहुत ही बेहतरीन पीस है। इसके अलावा फिल्म का टाइटल सॉंग तेरा हीरो इधऱ है, पलट, शनिवार रात्रि मुझे नींद नहीं आती आदि बहुत ही कर्णप्रिय हैं। इन गानों के बोल भी जबान पर बड़ी ही आसानी से चढ़ने वाले हैं।

वरुण धवन बतौर श्रीनाथ प्रसाद उर्फ सीनू

वरुण धवन एक बहुत ही बिगड़ा हुआ लड़का है जो कि सिर्फ मस्ती में ही डूबा रहता है। सानू एक दिन अपने माता पिता और शहर को छोड़कर बैंगलौर जाता है डिग्री कॉलेज ज्वाइन करने और कुछ करके दिखाने। लेकिन वहां पर उसकी मुलाकात होती है सुनैना (इलियाना डी क्रूज) से। सीनू के किरादर में वरुण धवन बहुत ही बेहतरीन एक्टिगं की है। पूरी फिल्म में सिर्फ और सिर्फ वरुण धवन पर ही दर्शकों की नज़रें टिकी रहीं। वरुण ने दिखा दिया कि वो बॉलीवुड में एक स्टार बनकर ही दम लेंगे।

इलियाना सुनैना के किरदार में निराशाजनक

मैं तेरा हीरो की हिरोइन इलियाना डी क्रूज ने फिल्म में बहुत ही निराशाजनक काम किया है। इलियाना हालांकि परदे पर खूबसूरत नज़र आई हैं लेकिन जहां तक अभिनय की बात है तो इलियाना के चेहरे पर कोई भी भाव नज़र नहीं आते। इलियाना के किरदार का नाम है सुनैना। वरुण जब बैंगलोर पढ़ाई करने जाता है तो उसे वहां सुनैना मिल जाती है और वो उससे प्यार करने लगता है। लेकिन सुनैना को पहले से ही एक गुंडागर्दी करने वाला इंस्पेक्टर अंगद (अरुणोदय सिंह) प्यार करता है और वो सीनू को सुनैना से दूर करने की कोशिश करता है लेकिन अंत में सीनू अंगद को काफी मजा चखाता है।

आयेशा नर्गिस फाखरी खूबसूरत मगर एक्टिंग में ढीली

नर्गिस फाखरी ने फिल्म में आयेशा का किरदार निभाया है जो कि वरुण धवन से प्यार करती है और उसे पाने के लिए उसकी गर्लफ्रैंड सुनेना को किडनैप करा लेती है। अपने पिता गैंग्सटर विक्रांत के जरिये सुनैना को किडनैप कलाकर आयेशा सीनू से शादी करने को कहती है लेकिन सीनू कुछ चक्कर चलाकर आयेशा को अंगद यानी अरुणोदय सिंह की तरफ आकर्षित कर देता है। और खुद बच जाता है।

सौरभ शुक्ला उर्फ बिल्लू

सौरभ शुक्ला का कॉमेडी के मामले में कोई जवाब ही नहीं है। मै तेरा हीरो फिल्म में सौरभ शुक्ला ने गैंग्सटर विक्रांत के साथ काम करने वाले बिल्लू का किरदार निभाया है। सौरभ शुक्ला बात बात पर कुछ कॉमेडी कविताएं बोलता है जो कि फिल्म के अंत तक लोगों को हंसाते रहे।

राजपाल यादव ऊर्फ टीनू

राजपाल यादव ने अंगत अरुणोदय सिंह के दोस्त का किरदार निभाया है जो कि हर समय अंगद के साथ रहता है। राजपाल यादव के भी कॉमेडी सीन बहुत ही मजेदार हैं।

अनुपम खेर गैंग्सटर विक्रांत के रुप में बेहतरीन

अनुपम खेर ने मैं तेरा हीरो फिल्म में आयेशा के पिता और गैंगस्टर विक्रांत का किरदार निभाया है। फिल्म में अनुपम खेर काफी समय बात फॉर्म में नज़र आए हैं। अनुपम खेर के किरदार का सबसे बेहतरीन पार्ट था कि वो जो भी कहते थे वो शब्द तीन बार इको होते थे। इसके पीछे वजह ये बताई गयी कि विक्रांत घाटियों से है इसलिए वो जो कुछ भी कहता है वो गूंजता है।

अरुणोदय सिंह बतौर अंगद बेहतरीन कोशिश

अरुणोदय सिंह ने अंगद का किरदार निभाया है जो कि सुनैना से प्यार करता है और पूरे कॉलेज में अंगद के डर के चलते कोई सुनैना से बात तक नहीं करता। सीनू अंगद के सामने सुनैना से प्यार करता है और अंगद को मजा चखाता है। लेकिन बाद में सुनैना को पाने के लिए सीनू आयेसा को अंगद से प्यार करवा देता है और खुद सुनैना को पा लेता है।

Topics: main tera hero, varun dhawan, movie review, review, main tera hero review, ileana d cruz, nargis fakhiri, sonika mishra, bollywood, मैं तेरा हीरो, वरुण धवन, फिल्म रिव्यू, रिव्यू, इलियाना डी क्रूज, नर्
English summary
Main Tera Hero is a srtory of a Sreenath Prasad aka Seenu (Varun Dhawan) who loves Sunaina (Ileana D'Cruz). Ayesha (Nargis Fakhiri) also loves Seenu and she kidnap Sunaina to get Seenu. Movie is full comedy and entertaining. Second half is little boring but overall Main Tera Hero is funny, crisp and entertain

Bollywood Photos

Go to : More Photos