»   » REVIEW: 'घायल वन्स अगेन'.. 10 किलो के पंच के साथ सनी देओल!

REVIEW: 'घायल वन्स अगेन'.. 10 किलो के पंच के साथ सनी देओल!

Posted by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

[समीक्षा]

Rating:
1.5/5

अजय मेहरा.. नाम तो सुना होगा! नहीं याद है तो हम बता दें, साल 1990 में आई सुपरहिट फिल्म 'घायल' के अजय मेहरा यानि की सनी देओल एक बार फिर बड़े परदे पर वापस आएं हैं।

फिल्म घायल जहां खत्म हुई थी, वहीं से शुरू होती है 'घायल वन्स अगेन'। 14 साल जेल में गुजारने के बाद अजय मेहरा बाहरी दुनिया में कदम रखता है, थोड़ा परेशान..थोड़ा गुमराह.. लेकिन भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म करने की कसम के साथ। इस बार इनके टार्गेट में है सफेद कॉलर वाले भ्रष्ट ऑफिसर..


अजय मेहरा फिल्म में पत्रकार की भूमिका में हैं। शरीफ लोगों को उनपर भरोसा है तो भ्रष्ट को उनका डर..


5 कारण: क्यों देंखे सनी देओल की 'घायल वन्स अगेन'


बहरहाल, फिल्म में काफी ट्विस्ट एंड टर्न्स हैं। यहां चार नए कलाकार भी दिखेंगे और अजय मेहरा होंगे उनके मसीहा। इन चारों बच्चों के हाथ एक ऐसा वीडियो आ जाता है, जिससे देश के सबसे बड़े इंडस्ट्रियलिस्ट राज बंसल का पर्दाफाश हो सकता है। लेकिन सच्चाई है, तो झूठ की ताकत से तो उसे गुजरना ही पड़ेगा।


बता दें, फिल्म का क्लाईमैक्स हॉलीवुड कॉमेडी एक्शन फिल्म True Lies से लिया गया है। फिल्म में सनी देओल के अलावा सोहा अली खान, ओम पुरी, टिस्का चोपड़ा, सचिन खेडेकर, नरेन्द्र झा मुख्य किरदारों में दिखेंगे।


बहरहाल, यहां जानें फिल्म की पूरी रिव्यू-


[नोट: कहते हैं कुछ बातों का भान इंसान को समय रहते हो जाना चाहिए.. वर्ना वह हानिकारक हो सकता है.. काश सनी देओल भी यह बात समझ जाएं।]


कहानी

कहानी

फिल्म की कहानी शुरू होती है चार बच्चों से। रोहन (शिवम पाटिल), अनुष्का (आंचल मुंजाल), वरूण (ऋषभ अरोड़ा) और जोया (डायना खान).. कॉलेड लाइफ में बिजी इन बच्चों के हाथों गलती से एक वीडियो लग जाती है, जिससे देश के सबसे बड़े कारोबारी राज बंसल का पर्दाफाश हो सकता है। वीडियो में राज बंसल के बेटे कबीर बंसल को पूर्व एसीपी जो डिसूजा (ओम पुरी) को गोली मारते दिखाया गया है।


कहानी

कहानी

चारों बच्चे उस वीडियो से राज बंसल को एक्सपोज करना चाहते हैं, लेकिन उनका परिवार उनका साथ नहीं देता क्योंकि राज बसंल के खिलाफ कुछ बोलना यानि की अपनी मौत को बुलावा भेजना है.. लेकिन बच्चे उस वीडियो को लेकर अजय मेहरा (सनी देओल) के पास जाते हैं। अब सनी देओल उन बच्चों के साथ देश के सबसे पॉवरफुल बिजनेसमैन से कैसे भिड़ता है, यह देखने के लिए आपको सिनेमाघर तक जाना पड़ेगा।


एक्टिंग

एक्टिंग

एक्टिंग के मामले में फिल्म ठीक ठाक है। हालांकि फिल्म की कास्ट काफी तगड़ी है। फिल्म में चारों बच्चों ने बहुत अच्छी एक्टिंग की है। साथ ही नरेन्द्र झा आपको काफी इंप्रैस करेंगे। वहीं, सनी देओल एक बार फिर अपने एक्शन से दर्शकों को इंप्रैस करने की कोशिश करते दिख रहे हैं।


निर्देशन

निर्देशन

फिल्म का निर्देशन भी सनी देओल ने ही किया है। जबकि प्रोडक्शन का जिम्मा धर्मेंद्र ने संभाला है। फिल्म को अपडेट बनाए रखने की काफी कोशिश की गई है, लेकिन कहीं न कहीं फिल्म 1990's में ही खोकर रह गई। फर्स्ट हाफ में ही आप फिल्म से इंटेरेस्ट खोते जाएंगे। इंटरवल के तुरंत बाद फिल्म में एक ट्विस्ट भी है, लेकिन शायद ही आपको वह उत्साहित कर पाएगा।


म्यूजिक

म्यूजिक

म्यूजिक के मामले में भी फिल्म ठीक ठाक ही है। हालांकि फिल्म का बैकग्राउंड स्कोर अच्छा है। फिल्म में एक ही गाना है, जो बच्चों के ऊपर है। वह यूथ को पसंद आएगी।


क्यों देंखे-

क्यों देंखे-

यदि आप सनी देओल के फैन हैं, तो यह फिल्म आप जाकर एक बार देख सकते हैं। हमारी तरफ से फिल्म Once Watch है। सनी देओल ने फिल्म के लिए काफी मेहनत की है। और वह दिख भी रहा है। वहीं, नए चेहरे भी आपको इंप्रैस करेंगे। बस.. इसके अलावा इस फिल्म को देखने के लिए हम आपको कोई कारण नहीं दे सकते।


निगेटिव बातें

निगेटिव बातें

फिल्म में काफी सारे सीन आपको बोर करेंगे। कार का ट्रेन से टकरा भी बच जाना। सनी देओल का बेकार का दौड़ना और अपनी बेटी के साथ इमोशनल डॉयलोग्स.. आदि.. आदि.. और हां, खासकर क्लाईमैक्स सीन..


English summary
Read here, Ghayal Once Again movie review, featuring Sunny Deol and Soha Ali Khan.
Please Wait while comments are loading...

Bollywood Photos

Go to : More Photos