»   » #SeedhiBaat: "वो ट्यूबलाइट वाला हीरो ये रोल ज़्यादा अच्छा करता!"

#SeedhiBaat: "वो ट्यूबलाइट वाला हीरो ये रोल ज़्यादा अच्छा करता!"

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

विवेक ओबेरॉय अपने को स्टार रितेश देशमुख के साथ मिलकर अपनी आने वाली फिल्म बैंक चोर को प्रमोट करने में जुट गए हैं। पहले तो ये फिल्म इसलिए फेमस है कि यशराज प्रोडक्शन्स की ये फिल्म कपिल शर्मा करने वाले थे। 

अब इस फिल्म को रितेश देशमुख और विवेक ओबेरॉय ने किया है और उन्होंने बॉलीवुड की सभी फिल्मों का मज़ाक उड़ा कर फिल्म को पॉपुलर कर दिया है। लेकिन विवेक ओबेरॉय प्रमोशन में सलमान खान छोड़कर और कुछ बात ही नहीं कर रहे।

viveik-oberoi-replies-on-being-compared-to-salman-khan

एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में विवेक से किसी ने पूछा कि वो ट्यूबलाइट वाला हीरो, ऐसे पुलिस के रोल ज़्यादा अच्छा कर लेता है। विवेक ओबेरॉय हंसे और कहा कि हां ये बात सही है और जब तीसरा पार्ट आएगा तो मैं भी देखूंगा। विवेक दबंग 3 की बात कर रहे थे।

इससे पहले एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में विवेक ने कहा कि आखिरी बार जब मैंने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी तो मेरी तशरीफ लग गई थी। और फिर हंसकर बोले कि जिसको भी ये बात समझ नहीं आई वो ट्यूबलाइट है।
[#Super: सलमान खान पर मारा ऐसा करारा ताना....कि सब लोटपोट हो गए!]

बैंक चोर एक कॉमेडी फिल्म है जहां रितेश देशमुख और विवेक ओबेरॉय चोर पुलिस खेलते देखेंगे। यूं कह लीजिए कि यशराज फिल्म्स ने धूम सीरीज़ का ही स्पूफ बना दिया है।

अब देखना है कि फिल्म लोगों को कितनी पसंद आती है। 

गलती हो चुकी

गलती हो चुकी

विवेक ओबेरॉय ने एक चैट शो के दौरान कहा कि प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाते ही उन्होंने समझ लिया था कि उनसे ये गलती हो चुकी है। इतने के बाद भी उन्हें केवल इसी एक बात की याद दिलाना!!!

पूरा किस्सा

पूरा किस्सा

विवेक और सलमान के बीच अनबन ऐश को लेकर हुई थी जब विवेक ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर सलमान की 41 मिस्ड कॉल दिखाई और कहा कि सलमान ने उन्हें जान से मारने की धमकी दी थी।

ऐश तुरंत पलट गईं

ऐश तुरंत पलट गईं

विवेक ने सबके सामने ये भी कहा कि जिस इंसान के लिए उन्होंने ये सब किया उन्होंने तुरंत कह दिया कि ये हरकत बचकानी थी। विवेक ओबेरॉय समझ ही नहीं पाए कि जिसके लिए वो ये सब कर रहे थे, वही कन्नी काट लेंगी।

टप्परवेयर से ज़्यादा प्लास्टिक

टप्परवेयर से ज़्यादा प्लास्टिक

बाद में विवेक ओबेरॉय ने एक चैट शो के दौरान खुल कर ये बात कही थी। उनकी मानें तो बॉलीवुड में टप्परवेयर से ज़्यादा प्लास्टिक है। झूठे लोग और झूठा दिल है जिनके पास।

मैं 25 साल का था और दीवाना था

मैं 25 साल का था और दीवाना था

विवेक ने ये भी कुबूल किया कि वो 25 साल के थे और प्यार में थे। वो भी दीवानों की तरह। उन्हें सही गलत, अच्छे बुरे की समझ नहीं थी और ना ही ये समझ आया कि इसका अंजाम क्या होगा।

राय देने वाले बहुत

राय देने वाले बहुत

उन्होंने ये भी माना कि उनकी संगत ऐसी थी कि उन्हें राय देने वाले बहुत लोग थे और वो सबकी सुन लेते थे। सबने उन्हें प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाने के लिए उकसाया।

सलमान खान और परिवार का दिल दुखाया

सलमान खान और परिवार का दिल दुखाया

विवेक ने माना कि इस हरकत से सलमान खान और उनकी मां को दुख पहुंचाने का दुख है। क्योंकि अरबाज़ और सोहैल उनके दोस्त थे। और इस घटना के बाद उन्होंने दोस्त खो दिए!

डूब गया करियर

डूब गया करियर

विवेक ने माना कि इस हरकत से उन्हें इंडस्ट्री में बैन कर दिया गया। किसी ने काम नहीं दिया। लोग पीठ पीछे उनका मज़ाक तक उड़ाते थे। हालांकि सामने सब अच्छे बनते थे।

रिजेक्ट की थी ओम शांति ओम

रिजेक्ट की थी ओम शांति ओम

उनका कॉन्फिडेंस इतना टूट चुका था कि उन्होंने ओम शांति ओम में अर्जुन रामपाल का किरदार रिजेक्ट कर दिया था। वो अपनी इमेज को लेकर काफी सचेत हो गए थे।

English summary
Viveik Oberoi replies on being compared to Salman Khan.
Please Wait while comments are loading...