»   » #KuchBhi: इसके बाद फिल्म में रह ही क्या जाएगा.. पूरी फिल्म में BEEP.. BEEP..

#KuchBhi: इसके बाद फिल्म में रह ही क्या जाएगा.. पूरी फिल्म में BEEP.. BEEP..

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

हॉलीवुड फिल्म स्पाइडरमैन की एक कहावत है- Great responsibilities Comes with Great Power..

हमें लगता है कि सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष पहलाज निहलानी को इस कहावत को गहराई से समझनी चाहिए। बॉलीवुड की हर फिल्म के साथ सेंसर बोर्ड की टकराहट, कहीं ना कहीं.. पूरी बॉलीवुड इंडस्ट्री और दर्शकों भी झल्ला रही है।


ताजा मामला देखा जाए तो फिल्म 'उड़ता पंजाब' की कंट्रोवर्सी अपने उफान पर है। अनुराग कश्यप के सपोर्ट में पूरी इंडस्ट्री खड़ी हो चुकी है। आमिर खान, अमिताभ बच्चन, जोया अख्तर, करण जौहर समेत बॉलीवुड के कई निर्देशक सेंसर बोर्ड के खिलाफ आवाज उठा रहे हैं।


[सेंसर बोर्ड के खिलाफ अनुराग कश्यप के बयान.. पढ़े यहां..]


बहरहाल, सेंसर बोर्ड ने कुल मिलाकर फिल्म में 94 कट मांगा है। जिसके लिए लाज़मी है कि शायद ही कोई निर्देशक तैयार हो। कोई शक नहीं कि सेंसर बोर्ड की यह डिमांड नाजायज है। सोचने की बात है कि 94 कट के बाद फिल्म में रहेगा क्या..


यहां जानें लिस्ट.. उड़ता पंजाब से क्या क्या हटाने का दिया गया है निर्देश-


नो पंजाब

सेंसर बोर्ड ने फिल्म की शुरुआत से पंजाब का साइन बोर्ड हटाने को कहा है।


किसी शहर का नाम नहीं..

पंजाब, जालंधर, चंडीगढ़, तरनतारन, अमृतसर, अबेसर, जशनपुरा, लुधियाना और मोगा के नाम.. ना ब्रैकग्राउंड में होने चाहिए.. ना डायलोग्स में।


गाने से ये शब्द बैन

गाना नंबर 1 से 'चिट्टावे' और H****i' शब्द हटाया जाए.. वह जहां कहीं भी आए..


बचेगा क्या!

b*****d, b*****o, bund, ta**oo, g***a , g***u, l***u, h******i, m******d, c**** hua aam, k**i, maiyove, कुड़ी, c***e, l***I and g****i जैसे शब्द फिल्म में हर जगह से डिलीट हों। टॉमी, b******o, b*****d, भी डिलीट हों।


राजनीति नहीं चाहिए!

फिल्में में इस्तेमाल हुए 'इलेक्शन', 'एमपी', 'पार्टी', ''पंजाब' ,'पार्लियामेंट' एमएलए', शब्द हटाए जाएं।


ड्रग्स के सीन

फिल्म में जहां भी ड्रग्स इजेक्ट करते दिखाया जा रहा.. उस सीन को डिलीट करें.


डॉयलोग

'जमीन बंजर ते औलाद कंजर..' ये डॉयलोग हटाया जाए। साथ ही कुत्ते का नाम 'जैकी चेन' डिलीट करें।


डिस्क्लेमर चले..

फिल्म की शुरुआत में ये डिस्क्लेमर होनी चाहिए.. ''फिल्म ड्रग्स के बढ़ते असर और इसके खिलाफ चल रही लड़ाई को दिखाती है। हम मानते हैं कि इसके लिए सरकार और पुलिस कोशिशें कर रही हैं। मगर ये लड़ाई लोगों के सहयोग के बिना नहीं जीती जा सकती।''


टॉमी का सीन

भीड़ के सामने टॉमी का पेशाब करते हुए एक सीन है.. जिसे डिलीट किया जाए।



 
English summary
The complete list Pahlaj Nihalani doesn’t want in Shahid Kapoor's Udta Punjab.
Please Wait while comments are loading...