»   » #ALERT: 2 दिन में होना है ट्यूबलाइट का सबसे बड़ा धमाका लेकिन....

#ALERT: 2 दिन में होना है ट्यूबलाइट का सबसे बड़ा धमाका लेकिन....

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

सलमान खान का ट्यूबलाइट ट्रेलर लॉन्च के लिए तैयार है। लेकिन फैन्स बेसब्र हो चुके हैं और इसलिए ट्यूबलाइट का ट्रेलर जल्द आए, इसके लिए ट्विटर पर जाप शुरू हो चुका है। 

कबीर खान पहले ही बता चुके हैं कि फिल्म में सलमान खान एक इमोशनल किरदार निभा रहे हैं और उन्हें देखकर आपको समझ आ जाएगा कि इससे बेहतर सलमान ने आज तक कुछ नही ंकिया है। 

salman-khan-s-tubelight-trailer-awaited-fans-trend-on-twitter

वैसे ट्रेलर को लेकर सलमान खान और कबीर खान के बीच बहस हो चुकी है। सलमान खान ट्रेलर में शाहरूख खान को रखना चाहते हैं और कबीर खान शाहरूख को नहीं रखना चाहते हैं।

सलमान खान ने कबीर खान से कहा है कि शाहरूख खान और सलमान खान को एक साथ देखना फिल्म की यूएसपी है और ट्रेलर में इसकी झलक देखकर फैन्स पागल हो जाएंगे।

वहीं दूसरी तरफ कबीर खान का मानना है कि शाहरूख खान और सलमान खान ही फिल्म की यूएसपी हैं और सबको पहले से ही पता है कि फिल्म में शाहरूख खान हैं। इससे ज़्यादा कुछ भी बताना खतरे से खाली नहीं है।

ऐसे में अब देखना है कि ट्यूबलाइट के ट्रेलर में सलमान खान की बात मानी जाती है या कबीर खान की। वैसे अब तक ट्यूबलाइठ की कहानी का कयास लगाया जा चुका है जो आपको फिर से याद दिला देते हैं -

ट्यूबलाइट की कहानी लीक

ट्यूबलाइट की कहानी लीक

सलमान खान अपनी हर फिल्म का टीज़र और ट्रेलर बनाते समय बहुत ज़्यादा एलर्ट रहते हैं। लेकिन सुलतान में हुई इतनी बड़ी गलती के बाद भी सलमान खान थोड़ा ढीले ही रहे और ट्यूबलाइट में फिर से एक गलती हो गई। फिल्म की कहानी लीक हो चुकी है।

एक खास इंसान, दिमाग से थोड़ा कमज़ोर

एक खास इंसान, दिमाग से थोड़ा कमज़ोर

सलमान खान लिटिल बॉय के लीड किरदार की तरह एक खास तरह के बच्चे हैं, जिनका दिमाग बड़ा नहीं हो पाया है। वो भोले और मासूम हैं। वो पूरे मोहल्ले के फेवरिट बच्चों की तरह!

भाई के साथ गुज़रते हैं दिन

भाई के साथ गुज़रते हैं दिन

सलमान खान के किरदार का नाम है लक्ष्मण जिसकी देख रेख करता है उनका भाई। बड़ा या छोटा फिलहाल नहीं पता। लेकिन दोनों एक दूसरे के लिए सबकुछ हैं और एक दूसरे पर जान छिड़कते हैं।

1964 का युद्ध

1964 का युद्ध

लेकिन इस खुशी के बीच छिड़ता है भारत और चीन के बीच एक युद्ध। दोनों तरफ लाशें बिछती हैं औऱ दोनों ओर से सैनिक अपने परिवारों को छोड़कर युद्ध पर चले जाते हैं।

भाई के जाने का दुख

भाई के जाने का दुख

सलमान खान अपने भाई को जाने देना नहीं चाहते लेकिन हर सैनिक को देश के प्रति अपना कर्तव्य निभाना होता है और सोहेल खान चले जाते हैं, भारत - चीन के युद्ध पर, बॉर्डर पर लड़ाई करने।

रेडियो बजईले

रेडियो बजईले

फिल्म में लक्ष्मण यानि कि सलमान खान के किरदार को खबर मिलती है कि उसका भाई ज़िंदा है और युद्ध से वापस लौट रहा है। और उस समय सारी सूचना रेडियो पर मिलती थी। बस इसलिए सलमान पूरे गांव को रेडियो बजाने को कहते हैं और इस बात को सेलिब्रेट करते दिखते हैं।

भाई की याद में

भाई की याद में

सलमान खान को भाई के जाने के बाद उसकी बहुत याद सताने लगती है और जब वो काफी समय बाद भी वापस नहीं आता तो वो अपने भाई से मिलने के तरीके ढूंढने की कोशिश करते हैं।

मिलता है जादूगर

मिलता है जादूगर

यहां सलमान को मिलता है एक जादूगर (शाहरूख खान) जो सलमान को अपने भाई तक पहुंचने का रास्ता बताता है।

कौन करेगा ये काम

कौन करेगा ये काम

सलमान एक छोटे से कस्बे से हैं और जब सैनिकों की नई भर्ती के बारे में पूछा जाता है तो सलमान खान जादूगर के बताए हुए रास्ते पर चलने के लिए और भाई से मिलने के लिए, सैनिक बनने की कोशिश करते हैं।

चल देते हैं ढूंढने

चल देते हैं ढूंढने

सलमान खान भाई को ढूंढने चल पड़ते हैं। हालांकि भारत - चीन के बीच इस दौरान तनाव काफी बढ़ जाता है। औऱ सलमान को उनकी मंज़िल तक पहुंचने से पहले, कुछ और साथी मिलते हैं।

इंटरवल के बाद क्या!

इंटरवल के बाद क्या!

अब ये तो थी इंटरवल की कहानी। इंटरवल के बाद, कहानी यही होगी, कि सलमान चीन कैसे पहुंचते हैं, इन चीनी लोगों से कैसे मिलते हैं, उनकी मदद से अपना भाई कैसे ढूंढते हैं और सलमान का नन्हा साथी इन सबके बीच क्या करता है!

ट्रेलर के लिए READY

ट्रेलर के लिए READY

24 मई को फिल्म का ट्रेलर आ रहा है और अब ट्रेलर में क्या क्या दिखेगा, ये देखने के लिए तैयार हो जाइए!

English summary
Salman Khan's Tubelight trailer awaited fans trend on twitter.
Please Wait while comments are loading...