»   » Hit and Run update- सलमान खान के वकील का बयान "सलमान मुजरिम नहीं, पुलिस फंसा रही है"

Hit and Run update- सलमान खान के वकील का बयान "सलमान मुजरिम नहीं, पुलिस फंसा रही है"

Posted by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

सलमान खान के हिट एंड रन केस की तारीखें बढ़ती जा रही हैं और केस खिचंता जा रहा है। लेकिन केस का फैसला आने में लग रहा है और कई साल यूं ही जाएंगे। खबर आई है कि हाल ही में हुए हिट एंड रन केस की सुनवाई के दौरान सलमान खान के वकील ने कुछ अहम सवाल कोर्ट के सामने रखे हैं जिनके चलते ये साबित होता है कि पुलिस की तरफ से काफी घपला किया जा रहा है।

पिछली सुनवाई के दौरान सरकारी वकील ने ये बात रखी थी कि इतने सालों बाद अचानक से ये ड्राइवर कहां से आ गया जो कह रहा है कि सलमान नहीं वो गाड़ी चला रहा था। साथ ही कई और सवाल उन्होंने रखे। अप सलमान खान के वकील ने कुछ ऐसे सवाल पूछे हैं जिनके जवाब अगर नहीं मिले तो सलमान खान पर से हिट एंड रन केस का आरोप हट भी सकता है।

Video: IPL के बहाने सलमान- शाहरूख मिलेंगे गले!

सलमान खान के फिंगर प्रिट्स लिये गये उसकी रिपोर्ट कहां है?

सलमान खान के फिंगर प्रिट्स लिये गये उसकी रिपोर्ट कहां है?

श्रीकांत शिवंडे ने कहा "इस केस में सलमान खान का फिंगर प्रिंट क्यों लिया गया था जब उसे सबूत के तौर पर दिखाना ही नहीं जाना था? जब पुलिस को पता था की गाड़ी में तीन ही लोग थे तो स्टेयरिंग, व्हील और सलमान खान के फिंगर प्रिंट ही क्यों लिए गए?, फिंगर प्रिंट को फॉरेंसिक जांच के लिए क्यूं भेजा गया? और फिर उसकी रिपोर्ट सबूतों के साथ क्यों नहीं लगायी गयी?' असल में फॉरेंसिक रिपोर्ट पुलिस केस के पक्ष में नहीं थी इसीलिए रिपोर्ट को अदालत के सामने नहीं लाया गया"

होटल में जिस ड्राइवर ने सलमान की गाड़ी पार्क की उसका बयान नहीं लिया

होटल में जिस ड्राइवर ने सलमान की गाड़ी पार्क की उसका बयान नहीं लिया

होटल 'जे डब्लू मैरीअट' में सलमान खान की गाड़ी उस रात जिस वैले ड्राईवर ने पार्क की थी उसका बयान नहीं लेने की बात सलमान के वकील ने अदालत में रखी उन्होंले कहा कि पुलिस की जांच में शुरू से ही कई खामियां थी।

रविंद्र पाटिल ने पहले दिन नहीं कहा था कि सलमान ने शराब पी थी

रविंद्र पाटिल ने पहले दिन नहीं कहा था कि सलमान ने शराब पी थी

पुलिस ने जब इस मामले में एफआईआर लेते हुए शिकायकर्ता रविन्द्र पाटिल का बयान दर्ज किया था तब कहीं भी रविन्द्र पाटिल ने यह नहीं कहा था की सलमान ने शराब पी रखी थी. यही वजह थीं की शुरू में ड्रंकन ड्राइविंग की आईपीसी की धाराएं केस में नहीं लगाई गई थीं. शराब का जिक्र रविन्द्र पाटिल के सप्लीमेंट्री बयान में आया था और उसके बाद ही धारा 304 (2) लगाई गई. शराब का जिक्र पुलिस की अपनी दिमाग की उपज थी

रेन बार के सारे बिल झूठे हैं,सलमान ने शराब पी ही नहीं थी

रेन बार के सारे बिल झूठे हैं,सलमान ने शराब पी ही नहीं थी

सलमान के वीकल का यह भी कहना है कि 'रेन' बार के जो बिल कोर्ट में बतौर सबूत जमा करवाए गए है वो फर्जी है. इस केस के मुख्य जांच अधिकारी किशन शेंगल ने उसमे छेड छाड़ की है। मन्नू खान नाम के चश्मदीद और जख्मी गवाह ने कोर्ट को बताया है की उसका मजिस्ट्रेट के सामने सीआरपीसी की धारा 164 के तहत जो बयान दर्ज कराया गया था उस दौरान पुलिस ने उसका लिखि‍त स्टेटमेंट मजिस्ट्रेट को दिखाया और बाद में उसपर उसके दस्तखत लिए. सलमान के वकील ने अदालत को बताया की 164 के तहत ऐसे बयान लेकर मजिस्ट्रेट और पुलिस ने कानून का मखौल बनाया है, क्योंकि गवाह ने कहा है कि‍ उसे पता नहीं था की उस स्टेटमेंट में क्या बातें लिखी हुई है आैर वो सही है या गलत यह भी नहीं पता था। गवाह ने ये भी कहा है की स्टेटमेंट किस भाषा में लिखी गयी थी उसे नहीं मालूम। 164 के बयान लेने की प्रक्रिया का बिलकुल भी ध्यान नहीं रखा गया है जिसके लिए दोषियों को कड़ी सजा मिलनी चाहिए. सरकारी पक्ष ने ना ऐसा कोई सबूत पेश किया न ही किसी गवाह ने सीधे तौर पर कहा की सलमान ने वारदात की रात शराब पी रखी थी।

जांच अधिकारी का बयान झूठा

जांच अधिकारी का बयान झूठा

इस केस के पहले जांच अधिकारी ने अपने बयान में कहा है कि उनके जांच छोड़ने तक सलमान गिरफ्तार नहीं हुए थे जबकि सलामन गिरफ्तार 28 तारीख के सवेरे 11 बजे हुए और पहले जांच अधिकारी ने जांच 29 तारीख को छोड़ी। फिर जांच अधिकारी ने यह बात कोर्ट से क्यों छिपाई। सलमान के वकील के मुताबिक वह सलमान खान के खून के स्टोरेज और दूसरे सवालों के जवाब नहीं देना चाहते थे इसीलिए ऐसा कहा इस केस के मुख्य जांच अधिकारी ने अपने सीनियर अफसरों को खुश करने के लिए गलत बयान और सबूत तैयार किए ताकि सलमान खान के खिलाफ 304(2) की धारा लगाई जा सके।

डॉक्टरी चांज करने वालों ने दिया गलत बयान

डॉक्टरी चांज करने वालों ने दिया गलत बयान

'जे जे हॉस्पिटल' में सलमान के आने का वक्त 2.25 लिखा गया है और निकलने का वक्त 2.30 लिखा गया है। डॉक्टर के बयान के मुताबिक इन 5 मिनट में सलमान का बीपी भी चेक कर लिया गया, रेस्पिरेटरी टेस्ट किया गया, खून निकाला गया और सलमान को चला कर भी देख लिया गया। महज 5 मिनट में ये सारे टेस्ट संभव नहीं है। सलमान के ये टेस्ट हुए ही नहीं थे। डॉक्टर ने झूठ बोला है।

English summary
Salman Khan's lawyer arises some questions which proves that police is not doing investigation of Hit ad Run case properly. There are many loop holes in Hit and Run case investigation.
Please Wait while comments are loading...