»   » #BangBang...तो कंगना की धज्जियां उड़ाने को तैयार हैं ऋतिक रोशन!

#BangBang...तो कंगना की धज्जियां उड़ाने को तैयार हैं ऋतिक रोशन!

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

ऋतिक रोशन और कंगना रनौत का हाई वोल्टेड ड्रामा, अगर आपको लग रहा था कि खत्म हो चुका है तो रूकिए! इस ड्रामा का सीज़न 2 शुरू होने जा रहा है। हाल ही में उनसे पूछा गया कि क्या उन्होंने बीती बातों को पीछे छोड़ दिया है।

ऋतिक का जवाब था - मैं पीछे कुछ नहीं छोड़ता। सब कुछ सामने रखता हूं। और जल्द ही सब कुछ बाकियों के सामने भी खोल के रख दूंगा। अब क्या इसका मतलब है कि अभी भी ऋतिक रोशन के पास कंगना रनौत के खिलाफ कुछ सॉलिड सुबूत हैं।
["अगर अपने पर आ गया तो कहीं मुंह नहीं दिखा पाएगी" - अजय देवगन] 

ऋतिक रोशन और कंगना रनौत का झगड़ा सुलझता हुआ कहीं से भी नहीं दिखा। और महेश भट्ट से सलाह लेने के बावजूद, ऋतिक रोशन ने वही किया जो उनका मन किया।
[हर 6 मिनट पर एक ईमेल करती थीं कंगना...जानिए क्या लिखती थीं!]

उन्होंने कंगना की कुछ तस्वीरें और ईमेल लीक किए थे जिनमें कंगना का ऋतिक के लिए दीवानापन दिख रहा था। तो कुछ तस्वीरें वाकई जता रही थीं कि उनके साथ कोई दिमागी परेशानी ज़रूर है। वहीं कुछ ईमेल्स में तो उन्होंने दीपिका, कंगना से लेकर प्रियंका तक को खींच लिया था।

देखिए कंगना ने ईमेल में लिखा क्या क्या - 
 

1499 ईमेल

इन ईमेल में कंगना ने ऋतिक पर बार बार प्यार जताने की कोशिश की है लेकिन अगर इन चिट्ठियों को ध्यान से पढ़ा जाए तो समझ आता है कि कहीं ना कहीं वो जानती थीं कि सामने कोई है ही नहीं जिससे वो बात कर रही हैं!

17 अगस्त 2014 - सपना तो नहीं

कभी कभी मैं सोचती हूं कि हमारा रिश्ता है भी या मैं बस किसी भ्रम में जी रही हूं। डरती हूं कि किसी दिन ये सपना टूट जाएगा तो क्या होगा। क्या तुम सच में हो या मैं किसी ऐसे शख्स से बात कर रही हूं जो है ही नहीं!

28 अगस्त 2014 -ऐसे नहीं चलेगा

जब हम सच में डेट करने लगेंगे तो मैं तुम्हारे बारे में यूं ही किसी अखबार या मीडिया वाले से नहीं जानना चाहती हूं। इससे मैं कन्फ्यूज़ हो जाती हूं हमारे रिश्ते के बारे में।

मैंने तु्म्हारा गाना सुना

मैंने फिर तुम्हारा नया गाना देखा...बेहतरीन है। आज कल मैं थोड़ी परेशान हूं...मुझे लगता है कि मुझे एस्पर्गर सिंड्रोम है। इसके 98 परसेंट लक्षण हैं मुझमें। तुम्हें समय मिले तो इस बीमारी के बारे में थोड़ा पढ़ना।

3 सितंबर 2014 - कुछ कहते नहीं

मेरे लिए बहुत ही मुश्किल होता है जब तुम कुछ भी कहते नहीं हो। बस चुपचाप मेरी सारी बातें सुन लेते हो पर कभी भी कोई भी जवाब नहीं देते हो।

2 नवंबर 2014 - फाइनली हम मिल लिए

बेबी मुझे यकीन नहीं हो रहा है कि आज हम पहली बार मिले। मैं शाहरूख के घर के बाहर आधा घंटे जाम में फंसी रही। अब बेड पर लेटी हूं। मुझे याद नहीं मैंने तुम्हें क्या क्या कहा। मेरे पेट में तितलियां उड़ रही है। पता नहीं जब हम पहली बार करीब आएंगे तो क्या होगा।

नया घर सजाउंगी

तुम अपने नए घर में कब शिफ्ट हो रहे हो? तुम्हारा पूरा घर और किचन मैं सेट करूंगी। तुम्हारे नए स्टाफ को भी मैं सिखाउंगी कि तुम्हारे लायक काम कैसे करना है।

तुम बात नहीं करते!

अच्छा ही हुआ आज तुमने फोन नहीं उठाया। मैं इतनी नर्वस थी कि तुमसे क्या बात करती समझ ही नहीं आता। मैं तुमसे पहली बार क्या बात करूं। बस मैं तुमसे बहुत प्यार करती हूं।

ऐसे बिता पाती हूंं दिन

सुबह उठते ही सबसे पहले तुम्हारे बारे में गूगल करती हूं। तुम्हारे बारे में एक भी खबर मेरा दिन बना देती है। पता नहीं ये सिलसिला कब बंद होगा।

English summary
Is Hrithik Roshan having some more solid proofs against Kangana Ranaut.
Please Wait while comments are loading...