» 

फिल्म 'लक्ष्मी' दर्शकों का जायका बदलने के लिए काफी...

Posted by:
 
Share this on your social network:
   Facebook Twitter Google+    Comments Mail

फिल्मकार-अभिनेता नागेश कुकुनूर की फिल्म 'लक्ष्मी' ने समीक्षकों से तारीफें पाई हैं। फिल्म मानव तस्करी और बाल देह व्यापार के बारे में है। कुकुनूर कहते हैं कि वह फिल्मों में दर्शकों को एक विकल्प देने की जद्दोजहद करते हैं क्योंकि दोहराव से दर्शक ऊब सकते हैं। उनकी फिल्म 'लक्ष्मी' दर्शकों का जायका बदलने के लिए काफी है।

उन्होंने एनआरआई ऑफ द ईयर पुरस्कार समारोह के दौरान कहा, "मेरा हमेशा ही विचार रहा है कि दर्शकों को विकल्प देने चाहिए। हम अगर एक जैसी फिल्में बनाते हैं तो दर्शक आगे नहीं बढ़ेंगे और अलग-अलग चीजों का अनुभव नहीं पाएंगे।" {blurb}

कुकुनूर ने कहा, "दर्शकों तक पहुंचना बहुत कठिन है खासकर लघु फिल्मों के लिए, जैसे लक्ष्मी को एक साल लग गया। मैं बहुत थक गया हूं..मैं अब कुछ सप्ताह का ब्रेक लूंगा और तब अपनी अगली फिल्म के बारे में सोचूंगा।"

यौनकर्मियों ने नागेश कुकुनूर को मिलीं गालियां

गौरतलब है कि फिल्म 'लक्ष्मी' में शेफाली शाह, नागेश कुकुनूर, मोनाली ठाकुर, सतीश कौशिक, राम कपूर ने मुख्य भूमिकाएं निभायी है। फिल्म में रेडलाइट एरिया का कड़वा सच दिखने की कोशिश की गयी है।

Did You Know: कुकुनूर 'रॉकफोर्ड', 'इकबाल', 'डोर' और 'मोड़' जैसी अलग-अगल फिल्में बनाने के लिए जाने जाते हैं।'लक्ष्मी' को जनवरी में पाम स्प्रिंग्स अंतर्राष्ट्रीय फिल्मोत्सव में सर्वश्रेष्ठ कहानी के लिए सर्वश्रेष्ठ फिल्म दर्शक पुरस्कार के सम्मान से नवाजा गया था।

Topics: bollywood, lakshmi, nagesh kukunoor, sex workers, बॉलीवुड, लक्ष्मी, नागेश कुकुनूर, सेक्स वर्कर
English summary
Filmmaker and actor Nagesh Kukunoor's latest film "Lakshmi", about human trafficking and child prostitution has garnered critics' appreciation. He says he strives to give the audience a choice in films as repetition can bore the audience.

Bollywood Photos

Go to : More Photos