»   » "...तो सलमान और शाहरूख की #Stardom में ये है सबसे बड़ा अंतर"

"...तो सलमान और शाहरूख की #Stardom में ये है सबसे बड़ा अंतर"

Written by:
Subscribe to Filmibeat Hindi

अनुराग कश्यप ने हाल ही में जागरण फिल्म फेस्टिवल में दिल खोलकर सिनेमा और अच्छी फिल्मों पर बात की। पैसों पर बात करते हुए उन्होंने कहा कि आजकल फिल्मों में पैसा इतना अहम हो गया है कि काम पीछे चला गया है। सब कुछ पैसों से होता है। 

हालांकि इसमें कोई बुरा नहीं है। लेकिन पहले आप कला को समझ लीजिए, जान लीजिए फिर चाहे जितना पैसों में खुद को तौलिए। लेकिन आते ही लोग सीधा पैसों पर ही बात करें, ये गलत है।
 

Anurag Kashyap on cinema

आईडिया से बनती है फिल्में
अनुराग कश्यप ने कहा कि फिल्म हमेशा आइडिया से बनती है। अच्छे एक्टर से बनती है। सुपरस्टार ब्लॉकबस्टर ज़रूर बनाते होंगे पर उसमें फिल्म जैसा कुछ नहीं होता है।
["शाहरूख - सलमान - आमिर...अगर इतने बड़े हैं तो बड़प्पन दिखाएं"] 

Anurag Kashyap on cinema
 

कैसे बना शाहरूख
अनुराग ने बताया कि शाहरूख खान दिल्ली से आया और स्टार बन गया क्योंकि उसका घमंड नहीं आया बीच में। वो सब कुछ कर चुका था और उसने सब कुछ किया। टीवी, थियेटर और तब कहीं जाकर स्टार बना। 

Anurag Kashyap on cinema
 

आजकल लोगों में इतना ईगो है कि शाहरूख पहले बन जाते हैं और उसके बाद देखते हैं कि काम क्या करना है। पहली ही फिल्म के बाद हर कोई खुद को स्टार समझने लगता है। स्टारडम झेल पाना हर किसी के बस की बात नहीं है।
[''सलमान किसी फिल्म में खड़े भी हो जाएंगे तो बॉक्स ऑफिस 300 करोड़ होगा''] 

Anurag Kashyap on cinema
 

कास्टिंग में आसानी
स्टार को ध्यान में रखकर जब फिल्में लिखी जाएं तो आप प्रोजेक्ट कर रहे हैं, फिल्में नहीं। फिल्म लिखी जाती है तब कास्टिंग की जाती है। पहले से कैसे आप तय सकते हैं कि कौन सा एक्टर इस किरदार में फिट बैठेगा।

Anurag Kashyap on cinema
 

फिल्मों का बजट
फिल्मों के बजट पर बात करते हुए अनुराग कश्यप ने कहा कि मैं छोटी बजट की फिल्में बनाता हूं। क्योंकि मेरी फिल्मों में स्टार नहीं होते। वो सब नॉर्मल एक्टर होते हैं।
["...इसलिए मैं कभी 100 करोड़ की फिल्म दे ही नहीं सकता"] 

Anurag Kashyap on cinema
 

स्टार के साथ कोई मज़ा नहीं
कश्यप ने बताया कि उनकी फिल्मों में स्टार नहीं होता क्योंकि कहानी ही वैसी नहीं होती। उन्हें एक नॉर्मल यूपी बिहार के लड़के के साथ भी फिल्म बनाने में ही उतना मज़ा आएगा क्योंकि उन्हें पता है कि उनकी कहानी अच्छी है। 

Anurag Kashyap on cinema
 

स्टारडम पर की बात
अनुराग कश्यप का कहना है कि फिल्म जगत में फिल्मी सितारों के बच्चे बाहर से आए लोगों की तुलना में सफलता को बेहतर तरीके से संभाल पाते हैं, क्योंकि बाहरी लोगों का शुरूआती सफलता के बाद ही ध्यान भटक जाता है।

Anurag Kashyap on cinema
 

क्या है स्टार किड्स का मंत्र
देव डी में अभय देओल और बॉम्बे वेलवेट में रणबीर कपूर के साथ काम करने वाले कश्यप ने अधिकतर सभी फिल्मों में बाहरी सितारों के साथ ही काम किया है।

Anurag Kashyap on cinema


कश्यप ने कहा कि क्योंकि फिल्मी सितारों के बच्चों ने बचपन से ही कामयाबी और नाकामयाबी के उतार-चढ़ाव को देखा होता है इसलिए वे अपने आप को संभालने के लिए तैयार होते हैं।

English summary
Anurag Kashyap talks about cinema and stardom.
Please Wait while comments are loading...