होम » मूविस » बेबी » कहानी

बेबी (U/A)

शैली

Post-Apocalyptic fiction

पाठकों द्वारा समीक्षा

रिलीज़ डेट

23 Jan 2015
कहानी
‘बेबी’ हाई आॅक्टेन दृश्यों से भरपूर होगी और गति के एक्शन दृश्यों से लैस होगी। अक्षय कुमार फिल्म में अजय के किरदार में दिखाई देगें जो कि भारत की न्यूमरो काउंटर एंटेलिजैंस के एजेंट बने हैं। वहीं अनुपम खेर शुक्ला जी के किरदार में दिखाई देगें जो कि अंडरकवर यूनिट में तकनीक के कार्यों में सहयोग देगें। राना डग्गुबत्ती जय के किरदार में दिखाई देगें जो कि इस टीम में सबसे शक्तिशाली आदमी के रूप में दिखाई देगें। इस विशेष किरदार को निभाने के लिए उन्हें काफी मांसाहारी होना पड़ा है। इस भूमिका को निभाने के लिए अच्छी शारीरिक स्थिति की जरूरत थी क्योंकि इसमें तमाम प्रकार के एक्शन दृश्य हैं।

डैनी डैंगजोंगपा फिरोज के किरदार में है जो कि अंडरकवर यूनिट के असल रणनीतिकार हैं और इस पूरी टीम के लीडर हैं। फिल्म को इंस्तांबुल, काठमांडू, अबुधाबी और भारत के कई हिस्सों में संुदरता के साथ फिल्माया गया है।

कहानी का विस्तार

अजय एक आॅफिसर है जो कि ऐसी टीम का हिस्सा है जिसे फोर्स के बीच से कवर्ट काउंटर एंटैलिजेंस यूनिट के लिए चुना गया है। अजय को पता चलता है कि उसके देश पर आतंकी हमला हो सकता है। आतंकी प्लान के मुताबिक देश में सभी के अंदर डर और नुकसान फैलाने की योजना है। इस पूरी योजना का मास्टरमाइंड एक नेता है जिसकी संस्था ने अपना जाल दुनिया के कई हिस्सों में फैला रखा है। जैसे जैसे समय बढ़ता जाता है, यूनिट के लिए उनके खिलाफ चुनौतियां बढ़ती ही जाती हैं और खतरे भी बढ़ जाते हैं।
यूनिट के सदस्य पूरी ताकत के साथ हमारी रक्षा के लिए तैनात हैं ताकि हम अपने घर में हिफाजत के साथ चैन की नींद सो सकें। इन गुप्त और साहसी आॅपरेशनों को काठमांडू, इंस्ताबुल, अबुधाबी, दिल्ली, मुंबई में फिल्माया गया है। हमारे रक्षक तब तक आराम नहीं करते जब तक दुश्मनों को हरा नहीं देते।

क्या मौलाना रहमान और उसकी टोली भारत के दिल में दहशत फैला पाएंगे? क्या भारत सरकार प्रतिक्रियाशील होगी? क्या अजय और उसकी यूनिट इस आतंकवाद को रोक पाएंगे?
Buy Movie Tickets
स्पॉटलाइट में फिल्में