»   » #SeedhiBaat: जब सलमान - अक्षय टिके ही नहीं....तो बिकेंगे कैसे!

#SeedhiBaat: जब सलमान - अक्षय टिके ही नहीं....तो बिकेंगे कैसे!

Written By:
Subscribe to Filmibeat Hindi

आमिर खान अपनी हर फिल्म के साथ कुछ नया करते हैं। लेकिन ठग्स ऑफ हिंदुस्तान के साथ तो आमिर खान ने धमाका ही कर दिया है। दरअसल, सूत्रों की मानें तो आमिर खान ने ठग्स ऑफ हिंदुस्तान के लिए 70 प्रतिशत प्रॉफिट की डिमांड की है।

अब ऐसा करने की कोई भी और एक्टर तो सोच भी नहीं सकता। लेकिन आमिर खान को कोई ना नहीं करता। और इसलिए प्रोड्यूसर आदित्य चोपड़ा ने आमिर खान की ये शर्त मान भी ली है।

why-aamir-khan-deserves-70-percent-profir-thugsof--hindostaan

गौरतलब है कि शाहरूख, सलमान, अक्षय सभी अपनी फिल्मों का प्रॉफिट शेयर करते हैं। लेकिन सभी का प्रॉफिट हिस्सा 40 से 50 प्रतिशत तक ही रहता है। सलमान खान 60 करोड़ की फीस के साथ 50 परसेंट प्रॉफिट लेते हैं।

लेकिन आमिर की डिमांड ने सबको हिला डाला है। आमिर ने फिल्म से 70 प्रतिशत मुनाफा अपने नाम करवा लिया है। इतना ही नहीं, फिल्म के लिए आमिर खान की फीस 55 - 60 करोड़ है।

गौरतलब है कि बाहुबली की सफलता के दौरान इस बात को काफी उठाया गया कि बॉलीवुड में फिल्में इसलिए भी नहीं कमा पातीं क्योंकि हमारे एक्टर्स की फीस ही कुल मिलाकर 100 करोड़ तक पहुंच जाती हैं।

हालांकि हमारे पास सारे कारण हैं यह साबित करने के कि आमिर की डिमांड जायज़ हैं और इन पैसों पर उनका हक है 

टिके नहीं तो बिके नहीं

टिके नहीं तो बिके नहीं

दरअसल माना जा रहा है कि आमिर की ये डिमांड नाजायज़ है क्योंकि सलमान खान से लेकर अक्षय कुमार तक हर कोई प्रॉफिट लेता है लेकिन इस तरह प्रो़ड्यूसर का घाटा नहीं करता है। लेकिन सीधी बात ये है कि सलमान हों या अक्षय, आमिर की तरह कोई अपनी फिल्मों के साथ टिका नहीं। तो फिर प्रोड्यूसर के सामने खुद को कैसे बेचता।

टिक गए हैं आमिर

टिक गए हैं आमिर

आमिर खान ने 70 करोड़ के बजट पर बनी दंगल के साथ ये साबित कर दिया कि उन्हें टिकना भी आता है और बिकना भी। तो ज़ाहिर सी बात है कि उन्होंने अपने पर बोली भी लगाई है तो इससे किसी को दिक्कत नहीं होनी चाहिए। आदित्य चोपड़ा भी खुशी खुशी उनकी डिमांड पूरी कर रहे हैं।

सक्सेस की गारंटी

सक्सेस की गारंटी

आमिर खान अपनी हर फिल्म के साथ सक्सेस की गारंटी साथ लेकर आते हैं। वो अगर किसी प्रोजेक्ट के साथ जुड़े हैं तो इसका मतलब है कि वो प्रोजेक्ट धमाकेदार तरीके से चलेगा।

 100 प्रतिशत काम

100 प्रतिशत काम

आमिर जब भी कोई प्रोजेक्ट लेते हैं तो उसके फेल होने की गारंटी नहीं रहती है। वो अपना बेस्ट देने के लिए जो कुछ भी हो सकता है वो सब कुछ करते हैं। ऐसे में फिल्म फेल होने की गुंजाइश काफी कम रहती है।

शुरू से अंत तक

शुरू से अंत तक

फिल्म के शुरू होने से लेकर फिल्म के खत्म होने तक, आमिर हर पड़ाव पर फिल्म से जुड़े रहते हैं। वो केवल फिल्म के हीरो नहीं होते बल्कि फिल्म के तकनीकी पक्ष से लेकर मार्केटिंग तक जुड़े होते हैं।

हर फिल्म ने बनाया है इतिहास

हर फिल्म ने बनाया है इतिहास

आमिर खान की हर फिल्म ने बॉक्स ऑफिस पर इतिहास रचा है। उनकी हर फिल्म, उनकी पिछली फिल्म से बेहतर होती है और ये रिकॉर्ड आज तक नहीं टूटा है। इसका सीधा मतलब है कि आमिर हर फिल्म के साथ बेहतर होते जाते हैं।

सौदागर बनकर कमाल

सौदागर बनकर कमाल

आमिर को पता है कि अच्छी फिल्म को और अच्छी कैसे बनाया जाए और उसे कैसे बेचा जाए। उन्हीं पता है कि कौन सी फिल्म कितना शोर मचाने पर चलेगी। जैसे दंगल का प्रमोशन हुआ ही नहीं तो पीके का ढोल नगाड़ों के साथ प्रमोशन हुआ।

शानदार सिनेमा

शानदार सिनेमा

जहां कई स्टार्स केवल इंटरटेनमेंट देते हैं वहीं आमिर खान सिनेमा को इंटरटेनमेंट के साथ कुछ नया ज्ञान या नई सोच की दिशा ज़रूर देते हैं। चाहे वो तारे ज़मीन पर की बच्चों को पालने का तरीका हो या फिर 3 इडियट्स की शिक्षा व्यवस्था। अब देखना है कि ठग्स से क्या मिलेगा।

दर्शकों की नब्ज़ पर कब्ज़ा

दर्शकों की नब्ज़ पर कब्ज़ा

आमिर खान दर्शकों की नब्ज़ टटोल चुके हैं। उन्हें पता है कि उनका दर्शक क्या देखता है और आगे क्या देखना चाहेगा। और इसी हिसाब से वो अपनी फिल्म को तैयार करते हैं। इसलिए दर्शकों के फिल्म रिजेक्ट करने की गुंजाइश ना के बराबर रहती है।

हर फिल्म के साथ नया ट्रेंड

हर फिल्म के साथ नया ट्रेंड

आमिर हर फिल्म के साथ नए क्लब की शुरूआत करते हैं। 100 करोड़ के साथ गजनी, 150 करोड़ के साथ 3 इडियट्स, 200 करोड़ के साथ धूम 3, 300 करोड़ के साथ पीके और अब 350 करोड़ के साथ दंगल!

English summary
Why Aamir Khan deserves 70 percent profir in Thugs of Hindostaan.
Please Wait while comments are loading...