»   » Bday SpcL-इसे कहते हैं 'सुपरस्टार'..इतने बड़े करियर में एक भी 'दाग' नहीं!

Bday SpcL-इसे कहते हैं 'सुपरस्टार'..इतने बड़े करियर में एक भी 'दाग' नहीं!

Written by: Shweta
Subscribe to Filmibeat Hindi

बॉलीवुड के इस सेलीब्रिटी की झोली में सिवाय सफलता के कुछ भी नहीं है। इसके लिए बेशक उन्होंने काफी मेहनत की थी। हम बात कर रहे हैं बॉलीवुड के शानदार डॉयरेक्टर विशाल भारद्वाज की।

विशाल भारद्वाज आज अपना 51वां जन्मदिन मना रहे हैं। विशाल भारद्वाज अपना आइडल हमेशा से ही गुलजार को मानते हैं। दरअसल विशाल भारद्वाज करियर की शुरूआत में दिल्ली में काम करते थे तभी उनकी मुुलाकात गुलजार से हुई और गुलजार उन्हें जंगल बुक का गाना चड्ढी पहन के फूल खिला है..की रिकॉर्डिंग करने का मौका दिए और इस तरह से विशाल भारद्वाज के करियर की शुरूआत हो गई।

[ऋतिक का एक 'हथियार' और क्या खान क्या कपूर सब गायब!]

विशाल भारद्वाज म्यूजिक कंपोजर, डायरेक्शन, राइटर जिस क्षेत्र में भी काम करते हैं पूरे परफेक्शन के साथ करते हैं। उसके उपर इतनी मेहनत की एक चूक की भी गुजारिश नहीं होती।

इतने सालों से बॉलीवुड में होने के बाद भी उनके करियर में कोई दाग नहीं है।बॉलीवुड 20 सालों से ज्यादा समय से काम करने के बाद भी अगर कोई शख्स ऐसा हो तो उसे काजल की कोठरी में भी बेदाग होना ही कहा जाएगा। आप भी डालिए उनके करियर पर एक नजर कि आखिर हम ऐसा क्यों कह रहे। 

म्यूजिक कंपोजर

म्यूजिक कंपोजर

विशाल भारद्वाज ने छोटे परदे से करियर की शुरूआत की। द जंगल बुक, एलिस इन वंडरलैंड के बाद गुलजार ने उन्हें खुद की निर्देशित फिल्म माचिस में संगीत देने का मौका दिए। इसके बाद विशाल भारद्वाज ने कभी मुड़कर पीछे नहीं देखा। उन्हें सत्या और डेढ़ इश्किया के लिए राष्ट्रिय पुरस्कार भी मिल चुका है।

डायरेक्टर

डायरेक्टर

विशाल भारद्वाज के निर्देशन में बनी पहली फिल्म मकड़ी थी।उसके बाद उन्होंने शेक्सपियर के नाटक मैकबेथ पर मकबूल बनाई।ओंकारा के लिए भी उन्हें सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का राष्ट्रीय पुरस्कार मिला। उनके डायरेक्शन में बनी कोई फिल्म ऐसी नहीं है जिसे वाहवाही ना मिली हो।

राइटर

राइटर

विशाल भारद्वाज ने कई फिल्मों की पटकथा खुद ही लिखी है।अपनी निर्देशित हर फिल्म का स्क्रीनप्ले वो खुद ही लिखते हैं।

बतौर सिंगर

बतौर सिंगर

विशाल भरद्वाज अपनी कई फिल्मों के लिए खुद ही गा भी चुके हैं। सात खून माफ, कमीने,हैदर, मटरू की बिजली का मन डोला में वो अपनी गाने भी गा चुके हैं।

प्रोड्यूसर

प्रोड्यूसर

विशाल भारद्वाज अपनी निर्देशित फिल्मों को प्रोड्यूस भी खुद ही करते हैं। तलवार, इश्किया,डेढ़ इश्किया, एक थी डायन जैसी फिल्मों को भी उन्होंने प्रोडेयूस किया लेकिन डायरेक्ट नहीं किया।

पर्सनल लाइफ भी शानदार

पर्सनल लाइफ भी शानदार

विशाल भारद्वाज अपनी निजी जिंदगी में भी बहुत ही शानदार इंसान हैं। उन्होंने शादी भी सिंगर रेखा भारद्वाज से की जो उनके कॉलेज के जमाने की दोस्त हैं। दोनों बॉलीवुड के किसी परफेक्ट कपल से कम नहीं है।

English summary
Vishal Bhardwaj is one of the perfect man of bollywood who succeeded in every field.
Please Wait while comments are loading...