जीवनी
सुप्रिया पाठक एक भारतीय अभिनेत्री और टीवी कलाकार हैं।  वह छोटे पर्दे पर टीवी शो की हंसा पारेख के नाम से प्रसिद्ध हैं। 

पृष्ठभूमि 
सुप्रिया पाठक का जन्म 7 जनवरी 1961 को मुंबई में हुआ था। इनके पिता का नाम बलदेव पाठक है।  माँ का नाम दिना पाठक हैं, जोकि एक अभिनेत्री और गुजराती थिएटर आर्टिस्ट हैं।  रत्न पाठक की एक बहन हैं- रत्ना पाठक, जोकि भारतीय सिनेमा की उम्दा अभिनेत्री हैं।  

शादी-
सुप्रिया पाठक की शादी फिल्म निर्देशक पंकज कपूर से हुईं है। सुप्रिया उनकी दूसरी पत्नी हैं।  इनके एक बेटा और बेटी हैं।  सना कपूर, रुहान कपूर। अभिनेता शाहिद कपूर इनके सौतले बेटे हैं। 

करियर
सुप्रिया ने अपने करियर की शुरुआत वर्ष 1981 में फिल्म कलियुग से बतौर सपोर्टिंग एक्ट्रेस की थी।  इसके बाद उन्होंने और भी कई फ़िल्में कि जिनमे, विजेता,मासूम,मिर्च-मसाला, राख शामिल है।  सुप्रिया को बड़े पर्दे से कुछ खास पहचान नहीं मिली, वह सिर्फ एक साइड रोल बन के रह गयीं।  इसके बाद उन्होंने अपने फ़िल्मी करियर से एक लंबा ब्रेक ले लिया।  11 साल बाद उन्होंने फिल्म सरकार से अपना कमबैक किया है।  सुप्रिया एक बेहद मंझी हुआ अदाकारा है यह उन्होंने संजय लीला भंसाली निर्देशित फिल्म रामलीला- गोलियोँ की रास लीला में साबित कर दिया।  इस फिल्म में दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह नजर आये थे। सुप्रिया को उनके इस फिल्म के किरदार के हर जगह प्रशंसा मिली।  इसके अलावा उन्हें इस फिल्म के लिए फिल्म फेयर के बेस्ट सपोर्टिंग एक्ट्रेस के अवार्ड से भी नवाज़ा गया। 

टीवी करियर 
जब सुप्रिया का फ़िल्मी करियर खत्म होने की कगार पर था, तब उन्होंने छोटे पर्दे की और रुख किया।  उन्होंने कई टेलीविजन शोज़ किये।  सुप्रिया का अब तक सबसे प्रसिद्ध किरदार खिचड़ी की हंसा पारेख हैं।  आज भी लोग सुप्रिया को हंसा के नाम से ही बुलाते हैं।  

Buy Movie Tickets